home page

बिना ब्लाउज के साड़ी पहनकर बवाल मचा चुकी हैं ये हसीनाएं, देखिये फोटो

Actress Wears Saree Without Blouse: आज के फैशन फॉरवर्ड वाले जमाने में शायद ही ऐसा कोई होगा जो स्टाइलिश नहीं दिखना चाहता हो।
 | 
asverya ray

Newz Fast, New Delhi प्रेजेंटेबल दिखना इन दिनों हर इंसान का मुख्य एजेंडा बन गया है। यही एक वजह भी है कि जब बात बॉलीवुड हसीनाओं की आती है, तो उनसे हर किसी की उम्मीदें बढ़ जाती हैं। हालांकि, ऐसा हो भी क्यों न इनके लुक्स को आम लोग इतना ज्यादा कॉपी जो करते हैं।

चाहे बोल्ड टच वाले वेस्टर्न कपड़े पहनने हों या फिर साड़ी जैसे ट्रेडिशनल इंडियन आउटफिट्स में ऐस करना हो, हर कोई एक्ट्रेसेस के लुक्स से इंस्पायर होता है।

हां, वो बात अलग है कि ग्रेसफुल-एलिगेंट और क्लासी दिखने वाले ऑउटफिट्स में जब ये हसीनाएं ग्लैमर-सेक्सीनेस और मॉडर्नाइज़ेशन का तड़का लगाती हैं, तो बात ही कुछ और होती है।

दरअसल, ऐश्वर्या राय बच्चन से लेकर प्रियंका चोपड़ा तक कुछ ऐसी अदाकाराएं हैं, जिन्होंने देसी आउटफिट में विदेशी तड़का लगाकर उसे रातों-रात फेमस कर दिया। 

ऐश्वर्या राय बच्चनray bachan

इस लिस्ट में सबसे पहला नाम ऐश्वर्या राय बच्चन का आता है, जो साल 2003 में रिलीज़ हुई अपनी बंगाली फिल्म 'चोखेर बाली' में बिन वाली ब्लाउज वाली साड़ी में नजर आई थीं।

इस फिल्म में यूं तो ऐश्वर्या ने एक से बढ़कर एक साड़ियां पहनीं, लेकिन उनकी बिना ब्लाउज वाली साड़ी ने सबसे ज्यादा सुर्खियां बटोरी थीं, जिसे खासतौर पर बंगाली रिचुअल के आधार पर डिजाइन किया गया था।

हालांकि, फिल्म में ऐश्वर्या ने एक विधवा महिला का किरदार निभाया था, जिसके लिए उनके सारे ऑउटफिट बंगाली डिजाइनर जॉय मित्रा द्वारा डिजाइन किए गए थे। छोटा सा ब्लाउज पहनकर जब ऐश्वर्या राय बच्चन ने पार्टी में मारी एंट्री, खूबसूरती के सामने अंबानी की बहू भी पड़ गई फीकी

प्रियंका चोपड़ा

इस लिस्ट में सबसे पहला नाम ऐश्वर्या राय बच्चन का आता है, जो साल 2003 में रिलीज़ हुई अपनी बंगाली फिल्म 'चोखेर बाली' में बिन वाली ब्लाउज वाली साड़ी में नजर आई थीं।

इस फिल्म में यूं तो ऐश्वर्या ने एक से बढ़कर एक साड़ियां पहनीं, लेकिन उनकी बिना ब्लाउज वाली साड़ी ने सबसे ज्यादा सुर्खियां बटोरी थीं, जिसे खासतौर पर बंगाली रिचुअल के आधार पर डिजाइन किया गया था।

हालांकि, फिल्म में ऐश्वर्या ने एक विधवा महिला का किरदार निभाया था, जिसके लिए उनके सारे ऑउटफिट बंगाली डिजाइनर जॉय मित्रा द्वारा डिजाइन किए गए थे। छोटा सा ब्लाउज पहनकर जब ऐश्वर्या राय बच्चन ने पार्टी में मारी एंट्री, खूबसूरती के सामने अंबानी की बहू भी पड़ गई फीकी

मीरा राजपूत meera rajput

अपनी हॉटनेस का लेवल दिन-पर-दिन बढ़ाने वाली शाहिद कपूर की मिसेज मीरा राजपूत कपूर (Mira Rajput Kapoor) भी इस मामले में पीछे नहीं हैं। वह भी अपने पल्लू को कंधे पर रखकर बिन ब्लाउज वाली साड़ी में तहलका मचा चुकी हैं।

दरअसल, इंडियन फेमस फैशन डिजाइनर जयंती रेड्डी ने अपने कलेक्शन 2022 को पेश करने के लिए मीरा राजपूत को अपनी म्यूज चुना था, जिसके लिए उन्होंने डस्टी रोज पिंक कलर की साड़ी पहनी थी।

साड़ी को बनाने में पूरी तरह सिल्क जैसे रिच फैब्रिक 

जिस पर सिल्वर जरदोजी से हाथ की एम्ब्रॉइडरी की गई थी। साड़ी में किसी तरह का कोई हेवी वर्क नहीं था बल्कि इसकी हेमलाइन में रॉयल इफेक्ट ऐड करते हुए इसे वर्सटाइल लुक दिया था।

अपने इस स्टेटमेंट पीस के साथ मीरा राजपूत ने किसी तरह का कोई ब्लाउज वेअर नहीं किया था बल्कि अपने फ्रंट जेस्चर को इस हसीना ने इस तरह कवरअप किया था कि वह बोल्ड होने के बाद भी इसमें एलिगेंस क्रिएट कर रहा था।

छोटी स्कर्ट में मीरा राजपूत ने शेयर की ऐसी तस्वीर, शाहिद कपूर को भी कहनी पड़ी ये बात

मौनी रॉयmoni roy

प्रियंका चोपड़ा-मीरा राजपूत की तरह मौनी रॉय ने भी बिना ब्लाउज के साड़ी पहनकर लोगों को हैरान कर दिया था। दरअसल, शादी से कुछ समय पहले मौनी ने अपने घर की छत पर एक फोटोशूट कराया था, जिसके लिए उन्होंने हरे रंग की सिल्क की साड़ी को पहना था।

साड़ी पर गोल्डन जरी वर्क का फ्लोरल पैटर्न नजर आ रहा था, जिसके साथ मैचिंग का हेवी इंट्रीकेट बॉर्डर भी दिया गया था।

अपने इस लुक में बोल्डनेस का एलिमेंट ऐड करने के लिए मौनी ने इसे बिना ब्लाउज के ड्रेप किया था, जिसमें अपने बैक पोर्शन को रिवीलिंग रखते हुए बखूबी फलॉन्ट किया था।

लुक को कम्प्लीट करने के लिए मौनी ने गोल्डन एंड ग्रीन स्टेटमेंट ईयररिंग्स पहने थे। महीन काम की साड़ी पहन दुल्हन की तरह तैयार हुईं मौनी रॉय, ये खूबसूरत तस्वीरें देख बढ़ जाएगी दिल की धड़कन

 
कैसे शुरू हुआ बिना ब्लाउज़ वाला फैशन


आपको बताते चलें कि जब भारत में अंग्रेजी सरकार ने दस्तक दी थी तो बिना ब्लाउज वाली साड़ी बंगाल में सबसे ज्यादा प्रचलित थी। हालांकि, उस दौरान अंग्रेजी महिलाएं खुद को तो डिज़ाइनर कोर्सेट में खुद को ढंककर रखती थीं, लेकिन भारतीय महिलाएं एक बांह को खोलते हुए इस तरह की साड़ी पहनती थीं।

कहा तो ऐसा भी जाता है कि भारतीय महिलाओं को यूं आधे कपड़ों में देखना अंग्रेजों को बिल्कुल रास नहीं आता था। इसके लिए उन्होंने एक मुहिम शुरू की थी, जिसे बंगाली सोशल रिफॉर्मर ज्ञानंदिनी देवी ने आगे बढ़ाते हुए साड़ी के साथ ब्लाउज पहनने की परंपरा की शुरुआत की।