home page

Mumbai में Dawood Ibrahim का गुर्गा सलीम फ्रूट NIA के हत्थे चढ़ा, कई महत्वपूर्ण दस्तावेज बरामद

एनआईए ने आज मुंबई के कई स्थानों पर छापामारी की। इस छापेमारी के बीच दाऊद इब्राहिम का गुर्गा सलीम फ्रूट एनआईए के हत्थे चढ़ गया। छापामारी कार्रवाई अभी तक चल रही है।

 | 
pic

Newz Fast,New Delhi  नेशनल इंवेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) ने पाकिस्तान स्थित गैंगस्टर दाऊद इब्राहिम (Dawood Ibrahim) के मुंबई में उसके सहयोगियों और हवाला ऑपरेटरों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की। छापामारी में दाउद इब्राहिम का सहयोगी सलीम फ्रूट (Salim Fruit) एनआईए के हत्थे चढ़ गया। सलीम फ्रूट रिश्ते में छोटा शकील का साला लगता है।

एनआईए ने उसे हिरासत में लेकर पूछताछ के लिए मुख्यालय लेकर पहुंची है। उधर, दाऊद इब्राहिम के अन्य गर्गों को भी पकड़ने के लिए लगातार छापामारी चल रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक एनआईए ने आज मुंबई के नागपाड़ा, गोरेगांव, बोरीवली, सांताक्रूज, मुंब्रा, भिंडी बाजार और अन्य जगहों पर छापामारी की। यह छापामारी अभी तक चल रही है। छापेमारी के बीच दाऊद का गुर्गा सलीम फ्रूट एनआईए के हत्थे चढ़ गया। वो अपने ही आवास पर पकड़ा गया। एनआईए ने सलीम फ्रूट के घर से महत्वपूर्ण दस्तावेज भी बरामद किए हैं। यूएन ने दाऊद इब्राहिम को भी 2003 में वैश्विक आतंकी घोषित किया था। वह 1993 के मुंबई धमाकों का मुख्य आरोपी है। वह कभी पाकिस्तान तो कभी अन्य देशों का रूख कर लेता है। एनआईए ने बयान जारी कर कहा कि दाऊद के सहयोगियों और कुछ हवाला ऑपरेटर के ठिकानों पर छापों की कार्रवाई जारी है।

नवाब मलिक से जुड़ा है मामला

बताया जा रहा है कि यह छापामारी जेल में बंद महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक से जुड़ी है। नवाब मलिक दाऊद की बहन हसीना पारकर से जमीन खरीदने और मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तारी हुई थी। गृह मंत्रालय के आदेश पर दाऊद इब्राहिम और उसकी 'डी कंपनी' के खिलाफ केस दर्ज किया था। सूत्रों का कहना है कि सलीम फ्रूट छोटा शकील का साला है। सलीम को 2006 में संयुक्त अरब अमीरात से भारत भेजा गया था। तब से वह जेल में बंद है।