'कड़क माल था': असम पुलिस को क्यों याद आई फिर हेरा फेरी, ड्रग माफिया को मीम बनाकर दी चेतावनी

बैकग्राउंड में नशीली दवाओं के खिलाफ पुलिस द्वारा बड़े पैमाने पर की गई कार्रवाई को दिखाया गया है।
 | 
kadak mal hai

Newz Fast, New Delhi  तस्वीर में 'गांजा, हेरोइन' को जलाते हुए दिखाया गया है। बड़ी-बड़ी लपटें तस्वीर में दिख रही हैं। इन दिनों विभिन्न राज्यों के पुलिस विभाग तमाम मुद्दों के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए रचनात्मक तरीके अपना रहे हैं।

मुंबई, पुणे और दिल्ली पुलिस अपने मजाकिया और चुटीले सोशल मीडिया पोस्ट के लिए जानी जाती है। हालांकि इन सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए पुलिस विभाग नागरिकों की रक्षा करने और नियमों के बारे में जागरूकता बढ़ाने का काम करती है।

अब, असम पुलिस ने ड्रग माफिया को चेतावनी देने के लिए फिल्म फिर हेरा फेरी के एक मीम का इस्तेमाल किया है।

असम पुलिस ने इंस्टाग्राम पेज पर एक तस्वीर शेयर की है

इस तस्वीर में फिल्म 'फिर हेरा फेरी' के कचरा सेठ की तस्वीर लगी है। तस्वीर के बैकग्राउंड में नशीली दवाओं के खिलाफ पुलिस द्वारा बड़े पैमाने पर की गई कार्रवाई को दिखाया गया है। तस्वीर में 'गांजा, हेरोइन' को जलाते हुए दिखाया गया है। बड़ी-बड़ी लपटें तस्वीर में दिख रही हैं। 

फिल्म 'फिर हेरा फेरी' में कचरा सेठ का किरदार मनोज जोशी ने निभाया था। तस्वीर में कचरा सेठ ड्रग्स के एक पैकेट को सूंघता हुआ दिखाई देता है और कहता है, "कड़क माल है।

" हालांकि, असम पुलिस ने इस डायलॉग को अपने हिसाब से बदल दिया और लिखा, "कड़क माल था।" असम पुलिस ने तस्वीर शेयर करते हुए लिखा, "गांजा हेरोइन - सभी आग की लपटों में चले गए! आसपास के सभी कचरा सेठों, आपके लिए कुछ खबरें हैं:

हम राज्य भर में मादक पदार्थों की तस्करी के खिलाफ अपना अभियान जारी रखेंगे"

पुलिस की यह क्रिएटिव पोस्ट वायरल हो गई है। एक यूजर ने कहा, 'ड्रग माफिया पर गुस्सा जाहिर करने का ये कितना नया तरीका है। असम में नशीली दवाओं के खतरे के खिलाफ युद्ध में अथक प्रयासों के लिए आपकी पूरी टीम को बधाई।

” एक दूसरे ने लिखा, "जो कोई भी पेज को हैंडल कर रहा है- आपके लिए एक लाइक!"