home page

गाड़ी चलाते समय फोन पर बात कर रहे हैं तो नहीं कटेगा 10 हजार का चालान, जान लीजिए नियम

यह आपके काम की खबर है। पुलिस आपको फोन पर बात करते समय देखते ही चालान काट देती है। लेकिन पूरा नियम जान लीजिए। जिससे चालान से बच जाएंगे।

 | 
treffic

Newz Fast, New Delhi अकसर देखने में आता है कि कई बार लोग वाहन चलाते समय फोन पर बात करते हैं। पकडे़ जाने पर तुरंत पुलिस की ओर से चालान काट दिया जाता है। यह ट्रैफिक नियम 184 M.V.A के अनुसार काटा जाता है।

जिस पर आपको 10000 रुपये का जुर्माना लगता है। क्या आपको पता है कि एक नियम ऐसा भी है, जिसके बारे में आप जानते हों तो 10 हजार रुपये के चालान से बचा जा सकता हैं।

अगर आपको यह नियम पता है तो पुलिस आपको फोन पर बात करते रोक नहीं सकती है। बिना चालान काटे जाने दे देगी। आइए हम आपको वह नियम बता रहे हैं।

हालांकि गाड़ी चलाते समय बात करना खतरनाक है। वाहन चलाना बेहद जिम्मेदारी का काम है। हमेशा नियमों का पालन करेंगे, तभी सेफ रहेंगे।

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने बीते दिनों लोकसभा में वाहन चलाते समय फोन पर बात करने से जुड़े एक नियम के बारे में जानकारी दी थी।

उन्होंने बताया था कि नियम के अनुसार वाहन चलाते समय अगर कोई व्यक्ति फोन पर बात करने के लिए हैंडफ्री कम्‍यूनिकेशन फीचर का इस्तेमाल कर रहा है तो वह दंडनीय अपराध नहीं माना जाता है, इसके लिए वाहन चालक पर जुर्माना नहीं लगाया जाता है।

मोटर व्हीकल (संशोधन) अधिनियम की धारा 184 (ग) में मोटर वाहन चलाते समय हैंड-हेल्‍ड कम्‍यूनिकेशन उपकरणों (जो उपकरण हाथ में लेकर इस्तेमाल किए जा रहे हों) के इस्‍तेमाल पर दंड का प्रावधान है।

आपको बता दें कि वाहन में हैंडफ्री कम्‍यूनिकेशन उपकरणों के इस्तेमाल पर कोई दंड का प्रावधान नहीं रखा गया है।

अब अगर आप ड्राइव करते हुए मोबइल फोन को हाथ में लेकर उससे बात करते हुए पकड़े जाते हैं, तो पुलिस आपका 10 हजार रुपये तक का चालान काट सकती है।

लेकिन अगर आप गाड़ी में हैंडफ्री कम्‍यूनिकेशन फीचर का इस्तेमाल करके बात कर रहे थे और पुलिस पकड़ ले, तो वह आपका इसके लिए चालान नहीं काट सकती है।

अगर फिर भी पुलिस जबरदस्ती करे तो आप इस नियम के बारे में बता सकते हैं और आराम से अपनी यात्रा कर सकते हैं। पुलिस आपको जाने देगी।