घरेलू विवाद बना मौत का कारण, जानिए पूरा मामला

बिहार के मधेपुरा में हुई हत्या की घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिसबिहार के मधेपुरा में हुई हत्या की घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस
 | 
jh

Newz Fast,Bihar  डबल मर्डर की ये घटना बिहार के मधेपुरा जिले की है. इस मामले की जानकारी मिलते ही स्थानीय पुलिस भी घटना की पड़ताल के लिए पहुंची है. मृतका के पिता ने इस घटना के लिए दामाद को दोषी करार दिया है.


घटनास्थल से लोगों को खून से लिखी चिट्ठी भी मिली है
मधेपुरा. बिहार के मधेपुरा में एक शख्स द्वारा अपनी ही पत्नी और बेटी की हत्या करने का मामला सामने आया है. घटना जिले के सदर थाना क्षेत्र के गोढाईला गांव की है जहां विवाहिता का कटा सिर मिलने से इलाके में सनसनी फैल गयी.

बताया जाता है कि पति ने ही महिला और अपनी एक बेटी की हत्या कर दी है. महिला का धड़ और बेटी का शव श्रीनगर थाना क्षेत्र के पोखरिया सरहद गांव से बरामद होने की बात कही जा रही है, जहां महिला का ससुराल है.

घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची है और छानबीन में जुट गई. बताया जा रहा है कि गोधेला के बाबुल राजा की बहन की शादी वर्षों पूर्व श्रीनगर थाना क्षेत्र के पोखरिया गांव में हुई थी.

महिला को तीन बच्चे भी हैं लेकिन महिला का पति के साथ अक्सर विवाद होते रहता था. इस कारण से महिला की पिटाई भी की जाती थी.

प्रताड़ना से तंग आकर विवाहिता 15 दिन पहले अपने मायके आ गई थी, जहां से वो अपने ससुराल जाना नहीं चाहती थी. इसी बीच लगभग 10 दिन पहले विवाहिता का पति ससुराल आया.


वो पत्नी की विदाई कराने के लिए आया था लेकिन जब पत्नी विदाई नहीं कराना चाहती थी तो फिर पति अपने साथ गांव के वार्ड सदस्य और 8-10 लोगों के साथ आया.

गांव में पंचायत भी हुई. उसमें फैसला हुआ कि दोनों राजी खुशी से रहेंगे. इसके बाद विवाहिता की विदाई कराई गई. इसी बीच शनिवार की सुबह जब गांव के लोग खेत की ओर टहलने के लिए निकले तो गांव से बाहर पुलिया पर एक महिला का सिर रखा हुआ देखा.

इसकी सूचना मिलते ही गांव के बहुत सारे लोग वहां जुट गए. इसके बाद लोगों ने उसकी पहचान बाबुल राजा की बहन रुखसाना के रूप में की.


 मामले में बाबुल राजा ने बताया कि उन लोगों को अभी घटना के बारे में कुछ भी पता नहीं है जबकि विवाहिता के पिता का कहना है कि उसका दामाद बदमाश किस्म का था.

आज सुबह जब बेटी का शव गांव के बाहर देखा हूं. हम लोगों को भी यह पता नहीं है कि आखिर वहां पर ऐसी कौन सी बात हो गई थी, जिस कारण से बेटी की गला काटकर हत्या कर दी गई.

बहरहाल घटनास्थल से ही एक खून से सना हुआ छोटा सा पत्र भी मिला है जिस पर लिखा हुआ है कि बाबुल राजा मैं तेरी बहन के चक्कर में अपने खानदान को एल करने वाला था, लेकिन तुमने तो मेरे ही खानदान का एल कर दिया.


अब इस एल का मतलब कोई फिलहाल नहीं समझ पा रहा है. इस संबंध में बाबुल से जब पूछा गया तो उसने भी अनभिज्ञता जाहिर की. उसने यह भी बताया कि अभी तक उसने वह पत्र नहीं पढ़ा है. फिलहाल पुलिस पहुंच चुकी है और घटना की छानबीन कर रही है. जब म