home page

दोस्ती के रिश्ते में महसूस कर रही हैं जलन, तो इन तरीकों से करें हैंडल

अगर आपको अपनी ही दोस्त के दूसरों से बात करने पर जलन हो रही है, तो इससे छुटकारा पाने के लिए आपको कुछ आसान से टिप्स को फॉलो करना होगा।
 | 
dosti m jln

Newz Fast, Nwe Delhi जलन एक ऐसी भावना है जो किसी की भी जिंदगी में हलचल पैदा कर सकती है। रोमांटिक रिलेशनशिप्स में इस तरह की भावना होना लाजिमी होता है और इसे अपने पार्टनर को बताना चाहिए।

लेकिन फ्रेंडशिप के बीच जब यह आ जाती है तो इसे जितनी जल्दी हो सके, खत्म कर लेना चाहिए। इससे पहले कि आपकी बेस्टफ्रेंड से दोस्ती खराब हो, आपको ये 5 काम कर लेने चाहिए ताकि उनसे आपका रिश्ता खराब न हो।

दुनिया में दोस्ती ही एक ऐसा रिश्ता होता है, जो बेहद अनमोल होता है और इसे संजोकर रखने में ही भलाई है। 

जलन की भावना को दूर करने के लिए पहला कदम उसे स्वीकार करना है। इसमें कोई शर्म की बात नहीं है तो इसे लेकर खुद पर गुस्सा न करें।

अपने आपको जज करना बंद करें क्योंकि जब आप अपने किसी दोस्त से बहुत प्यार करते हैं तो यह एक नॉर्मल फीलिंग है। आपकी दोस्त भले ही किसी से भी बात करे, लेकिन आपकी जगह उसके दिल में कम नहीं होगी।

कई शोधकर्ताओं के मुताबिक, अगर आप जलन की भावना को एक्सेप्ट करने के लिए तैयार रहते हैं, तो आप इस पर जल्द काम करके इसे खत्म करने में भी सक्षम बन पाते हैं।

​जजमेंटल न बनें

अपनी ईर्ष्या की भावना को दूर करने के लिए आप अपने निगेटिव इमोशन को सही न मानें। भले ही आप अपनी बेस्टफ्रेंड से कितना भी प्यार क्यों न करती हों, लेकिन उसके किसी और से बात करने पर आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है।

ऐसा न समझें कि वह किसी और को आपसे ज्यादा वेल्यू करती हैं। आपको यह समझना होगा कि उनके दिल में किसी दूसरे दोस्त के लिए भी जगह हो सकती है लेकिन उसकी तुलना आपसे नहीं है।

हद से ज्यादा इमोशनल होने के बजाय थोड़ा प्रैक्टिकल होकर सोचें।

आपका डर क्या है?

शांति से खुद के साथ समय बिताएं और इस बात पर ध्यान दें कि असल में आपको क्या परेशान कर रहा है। क्या आपको अपने सबसे अच्छे दोस्त को खोने का डर है?

ये भी हो सकता है कि आप महसूस कर रहे हों कि आपको अपने बेस्टफ्रेंड की तरफ से वो वेल्यू नहीं मिल रही है, जिसकी आप उम्मीद करते हैं। ऐसा भी हो सकता है कि इन सभी भावनाओं का कारण कुछ और भी हो।

इसलिए पहले सारी संभावनाओं को तलाश लें, उसके बाद ही दोस्त से बात करें।

​दोस्त से करें बात

अगर आप अपने इमोशन्स पर कंट्रोल नहीं कर पा रहे हैं, तो आप अपनी बेस्टफ्रेंड से बात करें। हर दिन परेशान रहने के बजाय आप दोस्त से बात करके सभी गलतफहमियों से छुटकारा पा सकती हैं।

लेकिन बात करने के दौरान इस बात का ध्यान जरूर रखें कि अपनी दोस्त पर कोई आरोप न लगाएं और गुस्सा न निकालें, इससे आपकी फ्रेंडशिप खराब भी हो सकती है।

आप अपनी बात कहें और उनकी बात को गौर से सुने भीं। ऐसा भी हो सकता है कि जैसा आप महसूस कर रही हों, उसके पीछे कोई वजह हो। अपनी बेस्टफ्रेंड पर हावी होने के बजाय उसके साथ दोस्ती को इंजॉए करने की कोशिश करें।