home page

Chanakya Niti: पत्नी के सामने पति इन बातों का कभी न करें जिक्र, नहीं तो टूट सकता है रिश्ता, जानें क्या कहती है चाणक्य की नीति

Chanakya Niti: अकसर हमारे जीवन को लेकर चाणक्य की कुछ नीतियां होती है, जो हमें अपने जीवन में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करती हैं। माना जाता है कि चाणक्य एक विद्वान और सबसे श्रेष्ठ अध्यापक थे। अधिकतर विद्यार्थी आज उनके मार्गदर्शन पर चलते हैं। वहीं वह एक शिक्षक के साथ साथ रणनीतिकार और अर्थशास्त्री भी थे। 
 | 
Chankya Niti wife

Newz Fast, Chankya Niti आचार्य चाणक्य ने अपने जीवन में विषम से विषम परिस्थितियों का सामना किया था परंतु कभी हार नहीं मानी और अपने लक्ष्य को प्राप्त किया। आचार्य चाणक्य ने अपनी नीति में पैसे, सेहत, बिजनेस, दांपत्य जीवन, समाज, जीवन में सफलता से जुड़े तमाम चीजों पर अपनी राय दी है। 

अगर कोई व्यक्ति की आचार्य चाणक्य की बातों का अनुसरण अपने जीवन में करता है, तो वह जीवन में कभी गलती नहीं करेगा और सफल मुकाम पर पहुंच सकता है। चाणक्य नीति में महिलाओं और पुरुषों के संबंधों के साथ-साथ उनके गुणों के बारे में भी उल्लेख किया है। पति और पत्नी को एक दूसरे का पूरक कहा जाता है।

दोनों सुख दुख के साथी होते हैं। फिर भी जीवन की कुछ ऐसी बातें हैं, जो किसी भी व्यक्ति से नहीं कहनी चाहिए। अपनी पत्नी से भी इन बातों को छिपाकर रखना चाहिए, वरना भविष्य में परेशानी झेलनी पड़ सकती है। आइए जानते हैं ऐसी कौन सी बातें हैं जो पति को अपनी पत्नी को नहीं बतानी चाहिए। 

अपने हुए अपमान को न बताएं 

आचार्य चाणक्य के नीति शास्त्र में उल्लेख मिलता है कि पति को कभी भी पत्नी को अपने हुए अपमान के बारे में नहीं बताना चाहिए। महिलाओं के बारे में ऐसा माना जाता है कि यदि उन्हें इस बात कि जानकारी होती है तो वह इस अपमान का ताना देने से चूकती हैं। 

दान छिप कर करें 

आचार्य चाणक्य कहते हैं कि दान का महत्व तभी होता है, जब उसे गुप्त रूप से किया जाए। इसे अपनी पत्नी से भी गुप्त ही रखना चाहिए। इससे आपके दान का महत्व तो कम होता ही है, साथ ही कई बार आपकी पत्नी दान पर किए गए खर्च की दुहाई देकर आपको भला बुरा कह सकती है।

अपनी कमजोरी न बताएं 

आचार्य चाणक्य के अनुसार यदि पति के अंदर कोई कमजोरी है या उसकी कोई कमजोरी है तो उसे अपनी पत्नी से साझा नहीं करनी चाहिए। आचार्य चाणक्य के अनुसार यदि आपकी पत्नी को आपकी कमजोरी पता चल गई तो वो अपनी बात मनवाने के लिए आपकी कमजोरी पर ही प्रहार करेगी। इसलिए अपनी कमजोरी कभी किसी को न बताएं।

अपनी कमाई न बताएं 

आचार्य चाणक्य के अनुसार अपनी कमाई के विषय में भी पति को अपनी पत्नी को नहीं बताना चाहिए। अगर उसे आपकी कमाई पता चल गई तो वो उस पर भी अधिकार जताते हुए आपके तमाम खर्चे को रोकने का प्रयास करेगी।