home page

Agnipath scheme: केजरीवाल ने अग्निपथ योजना पर उठाए सवाल, कहा केंद्र सरकार को इसकी समीक्षा करने की है जरूरत

अक्सर देश में आजकल देखा गया है कि अग्निपथ योजना को लेकर देश में काफी बवाल चल रहा है. बताया जा रहा है कि  हमारे युवाओं और देश के लिए हानिकारक है।
 | 
j

 Newz Fast, New Delhi    बता दें कि चार साल की सेवा के बाद उन्हें पूर्व सैनिक कहा जाएगा और उन्हें कोई पेंशन नहीं मिलेगी। मुझे ऐसा लगता है कि केंद्र सरकार को इसकी समीक्षा करने चाहिए।

बतो दें  कि  केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना को लेकर देश के अलग-अलग राज्यों में युवाओं ने विरोध प्रदर्शन किया था। राजनीतिक दलों ने भी इस योजना को लेकर अपनी-अपनी प्रतिक्रियाएं दी।

 

इसी क्रम में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अग्निपथ योजना को लेकर एक बार फिर सवाल किया है।


आपको बता  दें कि केजरीवाल ने एक टवीट के जरिए कहा कि अग्निपथ योजना हमारे युवाओं और देश के लिए हानिकारक है।

चार साल की सेवा के बाद, उन्हें पूर्व सैनिक कहा जाएगा और उन्हें कोई पेंशन नहीं मिलेगी। मुझे ऐसा लगता है कि केंद्र सरकार को इसकी समीक्षा करने चाहिए। दूसरी तरफ मुख्यमंत्री केजरीवाल ने दिल्ली के स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी का जिक्र किया।

उन्होंने कहा कि राजधानी दिल्ली में स्पोर्ट्स एजुकेशन को बढ़ावा देने का काम किया जा रहा है। युवाओं से आहवान किया कि जितने मेडल आज चीन और अमेरिका लेकर आते हैं, हमें उससे ज्यादा मेडल लेकर आना है। उसके लिए हमें जो भी करना पड़े हम करेंगे।

 

जितने मेडल आज चीन और अमेरिका लेकर आते हैं, हमें उससे ज्यादा मेडल लेकर आना है। उसके लिए हमें जो भी करना पड़े हम करेंगे। हमने अभी दिल्ली स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी की शुरूआत की है: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, दिल्ली pic.twitter.com/axcZqgiLTa

— ANI_HindiNews (@AHindinews) June 24, 2022
इसके लिए युवाओं को तैयार रहना है और दिल्ली में स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी की शुरुआत हो चुकी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने यूनिवर्सिटी ऑफ ईस्ट लंदन के साथ करार किया है।

स्पोर्ट्स के मामले में यूनिवर्सिटी ऑफ ईस्ट लंदन सबसे बेहतरीन यूनिवर्सिटी मानी जाती है। दिल्ली स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी को खड़ा करने में वे हमारी मदद करेंगे ताकि हम इसे अंतराष्ट्रीय स्तर पर ले जा सकें। खेलों में देश के युवाओं को बढ़ावा दिया जाएगा।

Agnipath Scheme Protest: अग्निपथ योजना को लेकर फैलाई जा रहीं कई अफवाह, जानिए- क्‍या है सच्‍चाई