खेल

Tokyo Olympics 2020 : भारत ने 41 साल बाद ओलंपिक में पदक जीतकर रचा इतिहास, इस देश को दी करारी हार

Tokyo Olympics 2020

Newz Fast, New Delhi 

Tokyo Olympics 2020 : टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में भारतीय पुरुष हॉकी टीम (India Men’s Hockey team) ने एक लंबे अरसे बाद देश के लिए पदक जीता है।

india hocky team

मनप्रीत सिंह (Manpreet Singh) की अगुवाई में टीम ने इतिहास रचते हुए वो कर दिखाया जो कभी नहीं हुआ। दरअसल भारत ने जर्मनी (Germany) को हराकर ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल (Bronze Medal in Olympics) जीत लिया है। भारतीय टीम ने 41 साल बाद देश के लिए कोई पदक जीता है।

mens india hockey team photo

भारतीय टीम ने दूसरे क्वार्टर में भरपूर दम दिखाते हुए शानदार वापसी की। इल बार टीम के खेल में ज्यादा संयम और संतुलन नजर आ रहा था।

जहां भारत ने बराबरी की तो वहीं जर्मनी वापसी करते हुए आगे निकल गई। वहीं उसने भारत के कमजोर डिफेंस का फायदा उठाया और स्कोर को 3-1 पर पहुंचा दिया।

hockey1

अब भारत के पास हमला करने के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं था, उसने सिर्फ हमले नहीं किए बल्कि कामयाब भी रही। भारतीय टीम हार मानने वाली थी नहीं तो उसने दोनों पेनल्टी कॉर्नर से दो गोल किए। भारत ने तीसरे क्वार्टर में शानदार शुरुआत के साथ बराबरी से आगे निकलते हुए स्कोर को 5-3 तक पहुंचा दिया।

रुपिंदर सिंह ने शॉट लगाया और गेंद जर्मन गोलकीपर को छकाते हुए सीधा जाल में जा उलझी। इसके बाद भारत के लिए गुरजंत और समिरनजीत सिंह ने मिलकर आक्रमण तैयार किया।

indian hockey team in olympics

जहां एक तरफ जर्मन टीम कमजोर दिख रही थी और वहीं दूसरी तरफ भारतीय टीम का आत्मविश्वास बढ़ता जा रहा था। दोनों टीमों को कई पेनल्टी कॉर्नर मिले लेकिन मजबूत डिफेंस ने गोल नहीं होने दिए। दोनों टीमों को अंदाजा था कि मुकाबला किसी भी ओ जा सकता है । (Tokyo Olympics 2020)

Related posts

JC Focus Condom : ओलंपियन खिलाड़ी ने किया बड़ा खुलासा, कंडोम की मदद से जीता था मेडल

Sandeep Kumar

Savita Poonia Hockey Player : टोक्यो ओलिंपिक में छाई सिरसा की छोरी, 9 पेनल्टी कॉर्नर बचाकर ‘द ग्रेट वाल’ के नाम से हुई मशहूर

Sandeep Kumar

Leave a Comment