Wrestling: कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत के पहलवानों ने दिखाया 'बाहुबली' रूप, 3 गोल्ड और 2 ब्रॉन्ज मेडल पर किया कब्जा

दीपक पूनिया ने फाइनल में अपने से ज्यादा अनुभव वाले पाकिस्तान के मोहम्मद इनाम को मात दी। दीपक पूनिया ने मोहम्मद इनाम को 3-0 से करारी शिकस्त दी।

 | 
wrestlers

Newz Fast, New Delhi कॉमनवेल्थ गेम्स में भारतीय पहलवानों ने कमाल का खेल दिखाया। कुश्ती में इन धाकड़ पहलवानों के दम पर ही भारत ने अभी तक 6 मेडल अपने नाम किए हैं।

इनमें तीन गोल्ड, एक सिल्वर और दो ब्रॉन्ज मेडल शामिल हैं। दीपक पूनिया, बजरंग पूनिया और साक्षी मलिक ने गोल्ड मेडल जीतकर तिरंगा लहरा दिया।

इन प्लेयर्स ने कमाल का खेल दिखाया और विरोधी प्लेयर्स को टिकने का मौका ही नहीं दिया। 

इस पहलवान ने पाकिस्तानी रेसलर को दी मात 

दीपक पूनिया ने फाइनल में अपने से ज्यादा अनुभव वाले पाकिस्तान के मोहम्मद इनाम को मात दी। दीपक पूनिया ने मोहम्मद इनाम को 3-0 से करारी शिकस्त दी।

पाकिस्तान के मोहम्मद इनाम दो बार कॉमनवेल्थ गेम्स में मेडल जीत चुके हैं, लेकिन इस बार दीपक पूनिया ने उन्हें टिकने का कोई मौका नहीं दिया और गोल्ड मेडल जीत लिया। 

साक्षी मलिक ने किया कमाल 

2016 रियो ओलंपिक की ब्रान्ज मेडलिस्ट साक्षी मलिक ने 62 KG फ्रीस्टाइल वर्ग में गोल्ड जीत लिया। साक्षी ने विपक्षी खिलाड़ी को चित (पिन) कर चार अंक हासिल किए और मुकाबला जीता।

वह कॉमनवेल्थ 2014 में सिल्वर और 2018 में ब्रॉन्ज मेडल जीत चुकी थीं।

बजरंग ने दिखाया बाहुबली रूप 

कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में भारत के लिए सबसे कुश्ती में सबसे पहला गोल्ड मेडल बजरंग पूनिया ने दिलाया। फाइनल में कनाडा के लचलान मैकनील को 9-2 से मात देकर गोल्ड अपने नाम किया।

वहीं, सेमीफाइनल में बजरंग ने अपने विरोधी को 10-0 से शिकस्त दी थी। बजरंग पूनिया ने 2014 में सिल्वर मेडल और 2018 गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड मेडल जीता था। बजरंग पूनिया टोक्यो ओलंपिक में ब्रान्ज मेडल अपने नाम कर चुके हैं। 

गोल्ड से चूकी अंशु मलिक 

अंशु मलिक ने सिल्वर मेडल अपने नाम किया। फाइनल मुकाबले में वह बेहतरीन प्रदर्शन नहीं दोहरा सकी। और सोना जीतने से चूक गईं। कुश्ती में उनके अलावा दिव्या काकरान और मोहित ग्रेवाल ने ब्रॉन्ज मेडल जीते।