home page

73 साल बाद भारत ने Thomas Cup के फाइनल में एंट्री कर रचा इतिहास, खतरनाक टीम को हराकर चौंकाया

 भारतीय टीम ने बैडमिंटन में नया इतिहास रच दिया है। डेनमार्क को हराकर पहली बार थॉमस कप के फाइनल में एंट्री कर ली है। जानिए इस ऐतिहासिक जीत के हीरो कौन रहे?
 | 
ipl

Newz Fast,New Delhi  बैडमिंटन में भारत ने एक और नया मुकाम हासिल कर लिया है। थॉमस कप टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में भारतीय पुरुष बैडमिंटन टीम ने डेनमार्क को 3-2 से हरा दिया है। इस जीत के साथ ही भारत की टीम ने टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में एंट्री कर इतिहास रच दिया है। आपको बता दें कि 73 साल के इतिहास में पहली बार भारत थॉमस कप के फाइनल में पहुंचा है। ये सभी भारतीयों के लिए गौरव का पल है।

73 साल बाद मिला जबरदस्त मौका

ये भी जानकारी आपको दे दें कि वर्ल्ड चैंपियनशिप के रजत पदक विजेता किदांबी श्रीकांत, सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी, चिराग शेट्टी और एचएस प्रणय उन लोगों में शामिल है जिन्होंने डेनमार्क के खिलाफ थॉमस कप सेमीफाइनल मुकाबले में भारत को जीत दिलाई हैं। श्रीकांत का यहां तगड़ा रिकॉर्ड रहा है और उन्होंने अपने पांचों मुकाबले जीते हैं। भारत ने साल 1979 के बाद से कभी भी सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्की नहीं की थी। इस बार भारतीय टीम ने शानदार प्रदर्शन किया और चैंपियन टीम डेनमार्क को मात दी।

भारत की ये ऐतिहासिक जीत रही

भारत की तरफ से प्रणय ने अंतिम 5वें मुकाबले में अपना दम दिखाया और जबरदस्त प्रदर्शन किया। इसके बाद भारतीय टीम ने 2-2 की बराबरी की और अंत में मुकाबला 3-2 से जीत लिया। इस जीत के साथ ही भारत का थॉमस कप में सिल्वर मेडल पक्का हो गया है। भारतीय टीम ने इस बार डेनमार्क की मजबूत टीम के सामने अपना दम दिखाया। ये जीत भारत की बहुत ही शानदार रही। अब फाइनल पर सभी की नजरें टिकी होंगी। अगर भारत फाइनल जीत जाएगा तो फिर सभी के लिए ऐतिहासिक पल होगा।