home page

हरियाणा में पंचायत चुनाव को लेकर सीएम ने दी बड़ी जानकारी, कही ये बात

हालांकि हरियाणा में पंचायत चुनाव से संबंधित याचिका माननीय पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट में लगी हुई है जिसके चलते पंचायत चुनावों पर रोक लगी है। फिलहाल प्रशासनिक अधिकारियों के पास पंचायतों का जिम्मा है।
 | 
haryana panchayat election 2021

Haryana Panchayat Election 2021

Haryana Panchayat Election News

Haryana Panchayat Election Update

हरियाणा में लंबे समय से पंचायत चुनाव का इंतजार है। सरपंची के चुनाव के लिए लोग बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। पिछली बार के सरपंची के चुनाव जनवरी के महीने में हुए थे, अब एक बार फिर जनवरी पास आने वाली है और लोगों की धड़कनें बढ़ी हुई है।

हालांकि हरियाणा में पंचायत चुनाव से संबंधित याचिका माननीय पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट में लगी हुई है जिसके चलते पंचायत चुनावों पर रोक लगी है। फिलहाल प्रशासनिक अधिकारियों के पास पंचायतों का जिम्मा है।

कोर्ट के फैसले के बाद होंगे पंचायत चुनाव

हरियाणा पंचायत चुनाव पर बोलते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि पंचायत चुनाव से जुड़ा मामला पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट में विचाराधीन है, जैसे ही कोर्ट का फैसला आएगा इसके बाद जल्द पंचायत चुनाव करवाए जाएंगे।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा में तेज गति से सड़क और रेलमार्गों पर काम चल रहा है, वह दिन दूर नहीं जब हरियाणा इन्फ्रास्ट्रक्चर में पहले स्थान पर होगा। इससे देश और प्रदेश ही नहीं बल्कि परिवारों की आर्थिक स्थिति भी अच्छी होगी। 

Haryana panchayat election 2021

हरियाणा सरकार ने केंद्र सरकार से 17 राष्ट्रीय राजमार्गों को मंजूर करवाया है, जिनकी लंबाई 1 हजार 70 किलोमीटर है, इनमें से 11 राजमार्गों पर काम हो गया है बाकि पर काम चल रहा है। मुख्यमंत्री मंगलवार को करनाल में 225 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित दो सड़क परियोजनाओं और कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज में 50 लाख रुपये की लागत से बने ऑक्सीजन प्लॉट का उद्घाटन कर रहे थे।

मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि प्रदेश में 950 करोड़ रुपये की लागत से 12 नए बाईपास बनवाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि करनाल में सोमवार को 284 करोड़ रुपये की 9 परियोजनाएं और मंगलवार को 225 करोड़ की तीन परियोजनाओं समेत दो दिन में करीब 500 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का उद्घाटन किया है।

करनाल-इंद्री-लाडवा रोड व करनाल-कैथल रोड के फोर लेन होने से यात्रा सुगम होगी और इससे हादसे भी कम होंगे। मुख्यमंत्री ने करनाल की जनता को आश्वासन दिया कि आने वाले दिनों में करनाल से निकलने वाले सभी 7 रास्ते फोरलेन किए जाएंगे। अभी तक 4 रास्ते पूरे हो चुके हैं बचे तीन रास्तों को भी जल्द फोरलेन किया जाएगा। 

3 से ज्यादा गांव वाली सड़क को 12 फुट से 18 फुट किया जाएगा

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि 3 या इससे ज्यादा गांव जिस भी सड़क पर होंगे उनकी चौड़ाई 12 फुट से 18 फुट की जाएगी। इसके अलावा 5 क्त्रम के सभी रास्तों को मार्केटिंग बोर्ड या पीडब्लूडी से बनवाया जा रहा है। अभी 346 रास्तों पर काम चल रहा है जबकि 1174 रास्तों पर काम पूरा कर लिया गया है। इससे गांवों से मंडियों तक का आवागमन शुगम होगा।

आर्थिक प्रगति के लिए इन्फ्रास्ट्रक्चर जरुरी

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि आर्थिक प्रगति के लिए इन्फ्रास्ट्रक्चर बेहद जरुरी है। प्रदेश में लगातार रेल व सड़कों का निर्माण किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार ने केएमपी और केजीपी का 135 किलोमीटर का रास्ता रिकॉर्ड समय में पूरा किया। इसके अलावा पलवल से कुंडली तक ऑर्बिटल रेल कॉरिडोर मंजूर हुआ है, जो जल्द बनेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि एक नेशनल हाइवे पानीपत से डबवाली के लिए भी मंजूर हुआ है जो जल्द बनेगा। इसके साथ-साथ जींद-गोहाना-सोनीपत, अम्बाला-शाहा-शाहाबाद हाईवे के फोर लेन का काम भी चल रहा है। उन्होंने बताया कि पिछले दिनों एक संस्था ने इन्फ्रास्ट्रक्चर में हरियाणा को दूसरा स्थान दिया है।

प्रधानमंत्री ने की हरियाणा के विकास कार्यों की तारीफ

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा के विकास कार्यों की खुद प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने भी तारीफ की है। उन्होंने कहा कि हरियाणा की स्कीमों व योजनाओं को दूसरे राज्य भी फोलो करते हैं, इतना ही नहीं कई दफा तो केंद्र सरकार भी इन्हें लागू करती है। मुख्यमंत्री ने इसका श्रेय जनता को दिया। 

मानव रहित फाटक नहीं रहेगी

मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा में मानव रहित फाटक नहीं रहेगी, इसको लेकर काम चल रहा है। 48 साल में महज 64 रेलवे ओवर ब्रिज और रेलवे अंडर ब्रिज बनाए गए जबकि उनकी सरकार ने 7 साल में 56 रेलवे ओवर ब्रिज और अंडर ब्रिज बनाए हैं। इसके अलावा 40 रेलवे ब्रिज पर काम चल रहा है। इससे मानव रहित फाटकों पर दुर्घटना में कमी आएगी।  

आम जनता के हितों के लिए खोले जाएं रास्ते

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि सिंघू और टिकरी बॉर्डर पर बंद रास्तों से आम जनता को परेशानी उठानी पड़ रही है। जनता के हित में रास्तों को खोलना चाहिए, ताकि आवागमन सामान्य हो सके। उन्होंने कहा कि टिकरी बॉर्डर पर अभी 5 फुट का रास्ता खुला है वहां बड़े वाहनों के निकलने में परेशानी है, इसे खुलवाने के लिए बातचीत जारी है। अगर कुछ लोग जिद छोड़कर बातचीत करें तो इस समस्या का समाधान होने में देर नहीं होगी।

10वीं कक्षा में टॉप आने वाली 20 लड़कियों को किया गया सम्मानित

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रदेशभर में 10वीं कक्षा में अव्वल रहने वाली 20 लड़कियों को को सम्मानित करते हुए 21 हजार रुपये की राशि का चैक भी दिया। मुख्यमंत्री ने उन्हें भविष्य में और बेहतर प्रदर्शन करने की शुभकामनाएं दी।