Haryana Liquor Price: हरियाणा में लागू होगी नई आबकारी नीति, महंगी होगी शराब-बीयर

Newz Fast
4 Min Read
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

Newz Fast, New Delhi Haryana Liquor Price: हरियाणा के शराब शौकिनों के लिए बुरी खबर सामने आ रही है। जानकारी के अनुसार आपको बता दे कि हरियाणा में नई आबकारी नीति लागू होने वाली है जिसके कारण शराब-बियर के दाम बढ़ने वाले है।

हरियाणा में 12 जून से नई आबकारी नीति लागू होने वाली है। इसी बीच शराब शौकीनों के लिए बुरी खबर आ रही है। शराब और बीयर के दाम बढ़ने वाले है। पहले की तुलना में अब आपको अधिक भुगतान करना होगा।

Also Read This: हरियाणा के इस शहर की बदलेगी किस्मत, निकलने वाले हैं 6 नेशनल हाईवे

यदि आप देशी शराब की बोतल लेते है तो आपको (Haryana Liquor Price) 5 रुपये और बीयर लेते है तो आपको 20 रुपये अब ज्यादा देने होंगे। 5 प्रतिशत तक की अतिरिक्त राशि आपसे अंग्रेजी और विदेशी शराब पर ली जाएगी। आबकारी नीति के तहत तय 12 जून से ये नीति लागू होने वाली है।

आबकारी नीति के तहत पहली बार सरकार ने शराब को भी इस दायरे में लिया है। पहले से ही यह तैयार कर ली गई है कि जिस रेट पर ठेकेदार को विदेशी शराब थोक में मिलेगी, वह उसी रेट में 20 प्रतिशत फायदा करके इसको आगे बेचेगा।

कहा जा रहा है कि इसे पहले वाले अधिनियम में ऐसा कोई भी प्रावधान नहीं था। 27 मई से शराब के (Haryana Liquor Price) दुकानों की निलामी शुरु होने वाली है।

होटल संचालकों को मिली राहत-

Also Read This: हरियाणा के इस शहर की बदलेगी किस्मत, निकलने वाले हैं 6 नेशनल हाईवे

शराब ठेकेदारों के एकाधिकारों को रोकने के लिए नई आबकारी नीति में कुछ प्रदान भी किया गया है। इसके कारण ही बार, होटल संचालकों को बड़ी राहत मिली है। जिन संचालकों के पास होटल का लाइसेंस है उसे भी अपने पास के इलाकों में 2 शराब के ठेकों से शराब लेनी पड़ती थी।

कई बार ऐसा होता है कि ठेकेदार अपने मनमाने ढंग से दरें वसूलने लग जाते थे। फिर उन पर शिकायत होती थी। किसी तीसरे पक्ष से फिर होटल मालिकों को शराब नहीं खरीदने के विवश करता है। सरकार ने भी इस बार होटल संचालको को ओर एक उपाय बताया है, जिसके बाद वह आसपास की 3 ठेकों से शराब खरीद सकता है।

शराब खरीदने के साथ यह भी निर्धारित किया हुआ है कि तीनों शराब के ठेके अलग-अलग लाइसेंस वाले धारकों के होने चाहिए। सरकार ने कहा है कि होटल संचालकों को अलग- अलग 3 उपाय मिल जाएंगे फिर वह ठेकेदारों से असीमित प्रयत्न करेंगे। फिर होटल निदेशक तय दर पर शराब खरीद सकते है।

Also Read This: हरियाणा के इस शहर की बदलेगी किस्मत, निकलने वाले हैं 6 नेशनल हाईवे

पिछली बार नई आबकारी नीति में 10,000 करोड़ रुपये के उद्देश्य के मुकाबले इस बार 12,300 करोड़ रुपये का (Haryana Liquor Price) राजस्व जुटाने का उद्देश्य तय किया गया है।

अनुबंध लेने के लिए पहली बार तीन साल का आईटीआर जरुरी, गांवों में 50 मीटर की दूरी पर शराब के ठेके अब खोले जा सकेंगे। शराब के ठेके 12 बजे के बाद खोलने के लिए उन्हे 20 लाख रुपये का हर साल कर देना होगा।

Share This Article