home page

कभी किया कुली का काम, आज हैं IAS अधिकारी; जानें केरल के श्रीनाथ की संघर्षपूर्ण कहानी

Newz Fast, New Delhi श्रीनाथ ने पहले केरल पब्लिक सर्विस कमीशन (KPSC) क्लीयर की, फिर उन्होंने UPSC एग्जाम की तैयारी करते हुए इसे भी क्लीयर कर दिखाया. 

 | 
ias

 UPSC जैसे एग्जाम को क्लीयर करने के लिए व्यक्ति को आर्थिक के साथ ही मानसिक संतुलन भी बना के रखना होता है. वहीं कुछ व्यक्ति ऐसे भी होते हैं जो अपनी आर्थिक स्थिति खराब होने के बावजूद अपने सपनों का पाने की जिद करते हैं और उन्हें पूरा कर के ही मानते हैं.

ऐसा ही कुछ कर दिखाया केरल के मुन्नार जिले के श्रीनाथ ने, जो एक समय तक रेलवे स्टेशन पर कुली के रूप में काम करते थे. लेकिन अपने सपने के पीछे पड़े श्रीनाथ आज IAS अधिकारी हैं. 

परिवार की आर्थिक स्थिति नहीं थी ठीक
श्रीनाथ के परिवार के आर्थिक स्थिति संतुलित नहीं थी, जीवन जीने के लिए उन्होंने एर्नाकुलम के रेलवे स्टेशन पर ही कुली के रूप में काम करना शुरू किया. 2018 में उन्होंने सिविल सर्विस एग्जाम  देने का मन बनाया और तैयारी शुरू कर दी, आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के कारण, वे कोचिंग सेंटर की फीस नहीं दे पा रहे थे. 

KPSC की शुरुआत
UPSC को मन  में रखकर उन्होंने केरल पब्लिक सर्विस कमीशन की तैयारी करना शुरू किया. रेलवे स्टेशन पर लगे फ्री Wi-Fi से उन्हें काफी मदद मिली, वे अपने स्मार्टफोन में ऑनलाइन लेक्चर डाउनलोड करते और काम करते हुए भी वह ईयरफोन लगाकर लेक्चर्स को सुना करते थे. काम के साथ ही एग्जाम की तैयारी की और KPSC क्लीयर कर दिखाई. 

लेकिन उनका टारगेट KPSC नहीं, UPSC था, उन्होंने कोशिश जारी रखी और UPSC के चौथे अटेम्प्ट में परीक्षा क्लीयर कर के ही माने.