home page

IAS UPSC Interview Questions : लड़कियों की शर्ट में क्यों नहीं होती है जेब, जानिए क्या है इसकी वजह

Newz Fast, New Delhi आईएएस IAS आईपीएस (IPS) अफसर बनने का सपना तो बहुत बच्चे देखते हैं लेकिन इसकी परीक्षा और इंटरव्यू को सुनकर अच्छे-अच्छों को पसीने आ जाते हैं। ये परीक्षा जितनी कठिन है उतना ही इसका लास्ट स्टेज यानि इंटरव्यू राउंड होता है।
 | 
IAS UPSC Interview Questions

IAS UPSC Interview Questions : आईएएस IAS आईपीएस (IPS) अफसर बनने का सपना तो बहुत बच्चे देखते हैं लेकिन इसकी परीक्षा और इंटरव्यू को सुनकर अच्छे-अच्छों को पसीने आ जाते हैं। ये परीक्षा जितनी कठिन है उतना ही इसका लास्ट स्टेज यानि इंटरव्यू राउंड होता है।

Why do girls’ shirts don’t have pockets, do you know the reason behind it? आज के समय में फैशन समय समय पर बदलता रहता है। लड़कियों के परिधान आज के दौर में जींस, टीशर्ट, शर्ट, पैंट, ट्राउज़र आदि भी शामिल हो गये है। पहले सिर्फ सलवार सूट ,साड़ी तक ही सीमित थे।

इंटरव्यू में कई बार अधिकारी कुछ ऐसे Tricky सवाल पूछते हैं कि उनके जवाब सिर्फ हाई IQ वाले ही दे सकते हैं। ये सवाल सुनने में बहुत मुश्किल लगते हैं लेकिन जरा सा दिमाग लगाने पर वो आसानी से हल हो जाते हैं। अगर आप बुद्धिमान हैं तो ऐसे सवाल आपके लिए खेल से कम नही हैं।

इनमें से कुछ सवाल एक्सपर्ट्स ने अलग-अलग इंटरव्यूज में शेयर किए हैं। हम ऐसे हीं कुछ सवाल एक बार फिर आपके लिए लेकर आए हैं। देखते हैं आईएएस इंटरव्यू में पूछे गए इन ट्रिकी सवालों के जवाब (IAS Interview Tricky Questions Answers) आप कितनी आसानी से दे पाते हैं

करीब 95 प्रतिशत कपड़ो में आप अगर महिलाओं के शर्ट या किसी भी कपडे को देखेंगे तो आपको जेब नही मिलेगी और कुछ में मिलेगी तो वो भी एक अपवाद है। वही बता दे शर्ट की शुरु आत भारत से नही बल्कि पश्चिमी देशो से हुई थी। 18 वी सदी के आस पास से यहां पर पहना जा रहा है।

लड़कियों की शर्ट में जेब इसके पीछे एक कारण यह था कि अगर महिलाओं के कपड़ों में जेब होगी, तो वे अपनी जेब में कुछ न कुछ तो जरूर रखेंगी। इसलिए उनके शरीर की बनावट बिगड़ जाएगी और शरीर में उभार दिखाई देगा, जिससे उनके शरीर की सुंदरता कम हो जाएगी। इसलिए शर्ट में जेब नहीं होती थी लेकिन अब किसी किसी में होती है।

2000 के बाद लोगो की सोच में आया बदलाव

पहले के फैशन में लड़कियों की शर्ट में पॉकेट नहीं बनाई जाती थी। लेकिन करीब साल 2000 के बाद लोगो की सोच में काफी बदलाव आया और उन्होंने महिलाओं की शर्ट में भी जेब बनानी शुरू की कुछ महिलाओं ने इसे एक तरीके से सराहा भी जबकि कुछ डिजायनरो और फैशन जगत से जुड़े लोगो ने इसकी आलोचना भी की। आजकल अगर आपको जरूरत है तो जेब वाली शर्ट मिल ही जाएगी।