home page

संकट के समय इन 4 बातों को रखें याद, चुटकियों में हल हो जाएगी हर समस्‍या

Newz Fast, New Delhi चाणक्‍य नीति में संकट से उबरने का बहुत आसान तरीका बताया गया है. यदि उस पर अमल कर लिया जाए तो संकट पलक झपकते दूर हो सकता है. 

 | 
chanakya niti

 जिंदगी में कई तरह के संकट और परेशानियां आती रहती हैं. कई बार हम आसानी से उनसे उबर जाते हैं लेकिन कई बार उनसे बाहर निकलने का कोई रास्‍ता ही नहीं सूझता है. ऐसे समय के लिए महान कूटनीतिज्ञ और मार्गदर्शक आचार्य चाणक्‍य ने 4 बहुत काम की बातें बताईं हैं.

यदि उनको संकट के समय अमल में लाया जाए तो बहुत फायदा होता है. यहां तक कि यह बड़े से बड़े दुश्‍मन को भी चित्‍त करने में बहुत काम आती हैं. 

4 बातें दिलाएंगी संकट पर जीत 

- चाणक्‍य नीति कहती है कि  संकट कितना भी बड़ा हो यदि उसका सामना योजनाबद्ध तरीके से किया जाए तो उसे उबरना आसान होता है. साथ ही उससे पार पाने में समय भी कम लगता है. इसलिए जब भी किसी संकट में फंस जाएं, तो ठंडे दिमाग से उसका विश्‍लेषण करें और उससे निपटने की नीति बनाएं. 

- हर वो व्‍यक्ति जो आसपास  की चीजों और स्थितियों को लेकर जागरुक रहता है, वो हमेशा संकट को समय रहते भांप लेता है. इससे उसे दूसरों की तुलना में उस संकट से बचने के लिए ज्‍यादा समय मिल जाता है. लिहाजा हमेशा जागरुक और सतर्क रहें. 

- जो लोग शक्तिशाली  होते हैं, वे बड़े से बड़े संकट से आसानी से निकल जाते हैं. इसके लिए मन और तन दोनों से शक्तिशाली होना जरूरी है. हमेशा खुद को शारीरिक और मानसिक तौर पर मजबूत बनाने के लिए काम करते रहें. ऐसे लोग हमेशा हर चुनौती को पार करके सफल होते ही हैं. इसके लिए संकट आने का इंतजार न करें, बल्कि पहले से ही खुद को तैयार रखें. 

- सकारात्‍मक सोच का  दामन कभी न छोड़ें. हर हालत में पूरी हिम्‍मत से जुटे रहें. यह सोच ही आपकी स्थितियां भी बदल देगी और आपको जीत भी दिलाएगी.