home page

धन प्राप्ति के लिए कर लें शिवलिंग का ये गुप्त उपाय, रात का वक्त है ज्यादा कारगर

 भगवान शिव बहुत ही कृपालु देव हैं. मात्र एक लोटे जल से भी भगवान शिव प्रसन्न हो जाते हैं. धन प्राप्ति, निजी समस्याओं से छुटकारा और सुख-समृद्धि के लिए ज्योतिष में कुछ उपायों को बताया गया है. जानें इन उपायों के बारे में. 

 | 
shiv ji

Newz Fast,New Delhi हिंदू धर्म में शिव जी को प्रसन्न करने के लिए अलग-अलग तरह से पूजा का विधान है. हर पूजा का अपना महत्व है. कोई सिर्फ जल अर्पित कर भगवान शिव की कृपा पाता है, तो कोई महादेव के व्रत कर उन्होंने प्रसन्न करने की कोशिश करता है.

शिवलिंग पर जलाभिषेक, दूध का अभिषेक, बेलपत्र आदि चढ़ाकर भी भगवान की कृपा पाई जा सकती है. भगवान शिव को सोमवार का दिन समर्पित है. मान्यता है कि संयम, संकल्प और नियमानुसार भगवान शिव की पूजा करने से व्यक्ति की सभी इच्छाएं पूरी होती हैं. 

वहीं, अपनी निजी समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए, धन प्राप्ति के लिए या फिर सुख-समृद्धि की प्राप्ति के लिए सोमवार के दिन शिवलिंग के कुछ उपायों के  बारे में बताया गया है.  जिन्हें करने से व्यक्ति की सभी समस्याएं दूर होती हैं. आइए जानें शिवलिंग के इन उपायों के  बारे में. 

रात में करें शिवलिंग के ये उपाय 

सुख-समृद्धि की प्राप्ति के लिए

सृष्टि के संहानकर्ता महादेव की कृपा और मनोवांछित फल की प्राप्ति के लिए नियमित रूप से पूजा करने के सलाह दी जाती है. ज्योतिष शास्त्र अनुसार नियत समय पर पूजा का प्रावधान बताया गया है. नियमित रूप से उसी समय भगवान की उपासना से विशेष फल की प्राप्ति होती है. 

धन प्राप्ति के लिए

अगर आर्थिक समस्या से परेशान हैं और धन लाभ चाहते हैं तो रात्रि के समय शिवलिंग के पास एक दीपक जला दें. ये नियमित रूप से 41 दिन तक करना होता है. सच्चे मन से रात्रि के समय घी का दीपक जलाने से घर धन-धान्य से परिपूर्ण होता है और व्यक्ति की सभी आर्थिक समस्याओं का नाश होता है. 

निजी समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए

भगवान भोलेनाथ बहुत ही दयालु और कृपालु हैं. मान्यता है कि अगर किसी भी कार्य की सफलता के लिए सच्चे मन से भगवान शिव से अराधना करते हैं. साथ ही, बेलपत्र, भांग, धतूरा, दूध और जल से शिवलिंग पर अभिषेक करते हैं, तो भगवान शिव आपकी सभी निजी समस्याओं को दूर करते हैं. 

शुभ फलों के लिए

अगर आप मनोवांछित फल की प्राप्ति के लिए भगवान शिव की अराधना कर रहे हैं, तो इसके लिए मध्य रात्रि का समय उत्तम है. मध्य रात्रि में शिवलिंग के समीप दीपक जलाने और बेलपत्र चढ़ाने से शुभ फलों की प्राप्ति होती है. 

पितृदोष से मुक्ति के लिए

व्यक्ति के जीवन में पितृ दोष का प्रभाव होने पर उसकी तरक्की में बाधाएं उत्पन्न होती हैं. इस दोष से छुटकारा पाने के लिए सोमवार के दिन चावल और काले तिल को मिलाकर दान करने से लाभ होगा. पितर दोष से मुक्ति मिलेगी और तरक्की के रास्ते खुलेंगे.