home page

रेसलर निशा को छेड़ता था कोच पवन, विरोध करने पर भाई समेत ले ली जान

 | 
sonipat wrestler murder case

हरियाणा के सोनीपत में एक रेसलिंग एकेडमी में कोच ने महिला पहलवान और उसके भाई की गोली मारकर हत्या कर दी। परिजनों का आरोप है कि कोच पवन मृतक पहलवान निशा के साथ छेड़छाड़ करता था। विरोध करने पर उसने निशा और उसके भाई पर हमला कर दिया। उधर, मृतक पहलवान के पिता ने कोच पवन पर गंभीर आरोप लगाए हैं। निशा के पिता दयानंद का कहना है कि पवन ने उनकी बेटी का ब्रेनवॉश कर दिया था, वह उससे अक्सर पैसे मांगता रहता था। दयानंद का दावा है कि उन्होंने करीब 3.5 लाख रुपए पवन को दिए थे।

दयानंद ने बताया कि उन्होंने अपने बेटे के फोन पर दोपहर करीब 2.30 बजे कॉल किया। तब किसी ने फोन उठाकर कहा कि उनके बेटे की लाश रोड पर पड़ी है। दयानंद ने आरोप लगाया कि  पवन ने उनकी बेटी का ब्रेनवॉश कर दिया था, वह पैसे मांगता रहता था। उन्होंने उसे करीब 3.5 लाख रुपए भी दिए थे।

निशा को बड़ा रेसलर बनाने के सपने दिखाता था कोच

दयानंद ने कहा, हमने उसके खिलाफ छेड़छाड़ की खबरें सुनी थीं। निशा युवा रेसलर थी। वह रेसलिंग की दुनिया में अपना नाम कमाना चाहती थी। कोच अक्सर उसे और परिवार से कहता था कि वह इसे बड़ा बनाएगा। दयानंद ने बताया कि उनकी बेटी ने यूनिवर्सिटी स्तर पर एक मेडल जीता था, और इसकी पुरस्कार राशि भी कोच के दे दी थी।

सुशील कुमार की मौजूदगी में हुआ था एकेडमी का उद्घाटन

दयानंद ने बताया कि कोच पवन हलालपुर गांव का नहीं था। इस गांव से सिर्फ निशा ही रेसलिंग सीखने जाती थी। दयानंद के मुताबिक, उनके परिवार में ही पवन की शादी हुई थी। 2 साल पहले एकेडमी के उद्घाटन के मौके पर सुशील कुमार आए थे। लेकिन उसके बाद वे कभी नहीं आए। दयानंद ने कहा, गांव वालों का आरोप है कि उसने जमीन पर कब्जा कर ये एकेडमी बनाई है।

छेड़छाड़ का है मामला?

हरियाणा के सोनीपत के हलालपुर में कुश्ती एकेडमी में महिला पहलवान निशा और उसके भाई की गोली मारकर हत्या कर दी गई। इतना ही हमले में पहलवान की मां भी गंभीर रूप से घायल हो गई। मां का इलाज रोहतक पीजीआई में चल रही है। हत्या का आरोप कोच पवन और उसके साथियों पर लगा है। बताया जा रहा है कि हत्या की वजह महिला पहलवान के साथ छेड़खानी का विरोध करना बताया गया है। पुलिस ने कोच और उसकी पत्नी पर हत्या का केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पवन पिछले चार साल से कुश्ती सिखा रहा था। परिजनों का आरोप है कि कोच निशा पर बुरी नजर रखता था।

बाइक से फरार हुआ पवन

वहीं, पुलिस ने बताया कि आरोपी पवन हत्याकांड के बाद सचिन नाम के शख्स के साथ बाइक से भागा है। हमारी टीमें लगी हुई हैं। हम उसे जल्द गिरफ्तार कर लेंगे। पुलिस ने आरोपी पवन के ऊपर 1 लाख रुपए का इनाम घोषित किया है।