home page

MBBS के फाइनल ईयर के स्टूडेंट ने लाइसेंसी रिवाल्वर से खुद को मारी गोली, जानें क्या है बड़ी वजह

Karnal Breaking News: हरियाणा में करनाल के निसंग गांव में कपूर हेल्थ केयर सेंटर के संचालक के बेटे ने खुद को गोली मारकर सुसाइड कर लिया. जब यह घटना हुई, उस समय डॉक्टर कपूर क्लीनिक में मरीज देख रहे थे. उसी दौरान ऊपर घर में लाइसेंसी रिवॉल्वर से उनके बेटे ने आत्महत्या कर ली.
 | 
Karnal Breaking today news

वह MBBS छात्र था. मामले की सूचना पर निसंग थाना पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. पुलिस को बताया गया कि डॉक्टर दंपती का बेटा बीमार था और उसका इलाज चल रहा था.

पड़ोस में रहने वाले जनक पोपली ने बताया, डॉ. संजय कपूर पेशेंट देख रहे थे. उसी समय उनके बेटे आर्यन ने गोली मारकर सुसाइड कर लिया. आर्यन MBBS कर रहा था. माता-पिता दोनों डॉक्टर हैं. घर में किसी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं थी.

वहीं, क्लीनिक पर काम करने वाले वर्कर ने बताया कि घर पर कोई भी समस्या वाली बात नहीं थी. वह ठीक से हंसता खेलता था. बेंगलुरु से एमबीबीएस कर रहा था. इस साल फाइनल ईयर था. हम नीचे अस्पताल में थे, उसी समय चिल्लाने की आवाज आई. इसके बाद सभी ऊपर पहुंचे.

इंस्पेक्टर अजैब सिंह ने बताया कि कपूर अस्पताल की ओर से घटना की सूचना मिली थी. इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची. डॉ. कपूर ने बताया कि उनके बेटे आर्यन का इलाज चल रहा था. उसने घर की लाइसेंसी रिवॉल्वर से गोली मारकर सुसाइड कर लिया. मामले की जांच के लिए एसएफएल की टीम को बुलाया गया है. हालांकि मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है.