home page

IPS Pooja Yadav Success Story: खर्च चलाने के लिए कभी किया था रिसेप्शनिस्ट का काम, जर्मनी की नौकरी छोड़ ऐसे बनीं IPS

आईपीएस अफसर पूजा यादव (Pooja Yadav) के लिए यूपीएससी टॉपर बनना इतना आसान नहीं था, क्योंकि शुरुआत में उनके परिवार की आर्थिक स्थिति कुछ ज्यादा अच्छी नहीं थी और अपना खर्च चलाने के लिए कभी बच्चों को ट्यूशन दिया तो कभी रिसेप्शनिस्ट का काम किया.
 | 
ips pooja yadav success storyv

Newz Fast, Haryana हरियाणा की रहने वाली पूजा यादव (Pooja Yadav) ने साल 2018 में यूपीएससी एग्जाम (UPSC Exam) पास किया और आईपीएस अफसर बनीं. इसके लिए उन्होंने जर्मनी में लगी नौकरी छोड़ दी.

हालांकि पूजा के लिए ये इतना आसान नहीं था, क्योंकि शुरुआत में उनके परिवार की आर्थिक स्थिति कुछ ज्यादा अच्छी नहीं थी, लेकिन इसके बावजूद उन्होंने कभी हार नहीं मानी और अपना खर्च चलाने के लिए कभी बच्चों को ट्यूशन दी तो कभी रिसेप्शनिस्ट का काम किया.

एम. टेक के बाद विदेश में लगी नौकरी
20 सितंबर 1988 को जन्मी पूजा यादव (Pooja Yadav) का बचपन हरियाणा में बीता और उन्होंने अपनी शुरुआती पढ़ाई भी यहीं से की. इसके बाद उन्होंने बायोटेक्नोलॉजी एंड फूड टेक्नोलॉजी में एमटेक (M.Tech in Biotechnology and Food Technology) किया. एम. टेक करने के बाद पूजा की नौकरी कनाडा में लग गई. कुछ सालों तक कनाडा में जॉब करने के बाद वह जर्मनी चली गईं और वहां काम करने लगीं.

 
क्यों छोड़ी विदेशी कंपनी की नौकरी
यूपीएससी पाठशाला के हवाले से DNA में छपी रिपोर्ट के अनुसार, कुछ सालों तक कनाडा और जर्मनी में नौकरी में करने के बाद पूजा यादव (Pooja Yadav) को अहसास हुआ कि वह भारत के विकास में योगदान देने के बजाय किसी दूसरे देश के विकास के लिए काम कर रही हैं. इसके बाद उन्होंने नौकरी छोड़ दी और यूपीएससी एग्जाम देने का फैसला किया.


दूसरे प्रयास में बनीं IPS अफसर
पूजा यादव (Pooja Yadav) ने नौकरी छोड़कर यूपीएससी की तैयारी शुरू कर दी, लेकिन पहले प्रयास में उन्हें सफलता नहीं मिली. इसके बाद दूसरे प्रयास में उन्हें सफलता मिली और 2018 कैडर की आईपीएस नियुक्त की गईं.


खर्च चलाने के लिए कभी किया रिसेप्शनिस्ट का काम
पूजा यादव (Pooja Yadav) ने पहले एमटेक किया और फिर विदेश की नौकरी छोड़कर आईपीएस अफसर बनीं, लेकिन उनके लिए यह इतना आसान नहीं था. पूजा का परिवार आर्थिक रूप से उतना अच्छा नहीं था. पूजा यादव को उनके परिवार ने हमेशा सपोर्ट किया, लेकिन उन्हें एमटेक करने के दौरान और यूपीएससी परीक्षा की तैयार के दौरान पैसे के लिए कई तरह के काम किए. पूजा ने कभी बच्चों को ट्यूशन दी तो कभी रिसेप्शनिस्ट का काम किया.
आईएएस विकल्प भारद्वाज से शादी
रिपोर्ट के अनुसार, पूजा यादव (Pooja Yadav) ने इस साल 18 फरवरी को आईएएस विकल्प भारद्वाज से शादी की थी. दोनों की मुलाकात मसूरी में लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी हुई थी. पूजा के पति विकल्प 2016 बैच के हैं और केरल कैडर के अधिकारी है, लेकिन शादी के बाद उन्होंने गुजरात कैडर में ट्रांसफर का अनुरोध किया है.


सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहती हैं पूजा
पूजा यादव (Pooja Yadav) सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव हैं और इंस्टाग्राम पर उनके करीब 2.5 लाख फॉलोअर्स हैं. उनका मानना है कि जनता के साथ बातचीत करने और अपने विचार व्यक्त करने के लिए सोशल मीडिया से बेहतर कोई मंच नहीं है, जो बदलाव लाने में मदद कर सकता है.