कैथल हरियाणा

Haryana Police Exam Leak 2021 : हरियाणा कांस्टेबल भर्ती पेपर लीक की जम्मू की प्रेस में रची गई थी पटकथा

Newz Fast, Kaithal

Haryana Police Exam Leak 2021

कांस्टेबल भर्ती परीक्षा पेपर लीक प्रकरण की पूरी पटकथा जम्मू-कश्मीर की प्रिंटिंग प्रेस में ही रची गई थी। जम्मू की एक एजेंसी को हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग ने पेपर की सेटिंग और छपाई का कांट्रेक्ट दिया था।

जिस प्रेस में यह छापा गया, उसके प्रिंटिंग सेक्शन में काम करने वाले कर्मचारी जितेंद्र कुमार ने इसे कंपनी के पुराने कर्मी मुजफ्फर अहमद खान को छह लाख रुपये में बेचा था। इसके लिए आगे 60 लाख रुपये में हिसार के गांव खांडा खेड़ी के राजकुमार उर्फ राजू और उसके भाई कुलदीप के साथ उसकी डील हुई। Haryana Police Exam Leak 2021

Haryana Police Exam Leak 2021

राजकुमार और कुलदीप ने हरियाणा में चार अलग-अलग लोगों के साथ एक-एक करोड़ रुपये में इसकी डील की। पुलिस अभी तक पेपर लीक प्रकरण में 28 गिरफ्तारी कर चुकी है और 60 और लोगों की गिरफ्तारी शेष है।

कुल 88 गिरफ्तारी इस मामले में की जानी हैं। एसआइटी ने श्रीनगर के ओल्ड छानपुर की दूधगंगा कालोनी निवासी एजाज अमीन उर्फ मोहम्मद अमीन, डोडा जिला की भाला तहसील के गांव सिंधरा निवासी जितेंद्र कुमार और जम्मू के अपर गाड़ीगढ़ महाकाली नगर निवासी राकेश कुमार चौधरी को गिरफ्तार करके 12 दिन का रिमांड लिया है। Haryana Police Exam Leak 2021

जिनसे पेपर लीक प्रकरण के पूरे षड्यंत्र का राजफाश हुआ। एसपी लोकेंद्र सिंह ने मंगलवार को पत्रकारों से बातचीत में यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि पुलिस ने इस प्रकरण की पूरी चेन को बेनकाब कर दिया है। Haryana Police Exam Leak 2021

प्रिंटिंग प्रेस से ऐसे निकला पेपर

प्रिंटिंग प्रेस के मैनेजर राकेश कुमार ने 31 जुलाई को पेपर बनने के बाद उसके चारों सेट पेन ड्राइव में डालकर छपाई के लिए रख दिए थे। यह पेन ड्राइव जितेंद्र को मिल गई और उसने दो अगस्त को पेपर व आंसर-की की प्रिंट आउट निकालकर अपने घर पर रख लिए।

See also  Haryana Police Constable Bribe : हरियाणा में खाकी हुई शर्मसार, रिश्वत लेते हवलदार गिरफ्तार

इसकी जानकारी उसने एजेंसी के पुराने कर्मी मुजफ्फर अहमद खान काे दी, जिसे एजेंसी से एक लड़की से छेड़छाड़ के चलते डेढ़ साल पहले निकाल दिया था। जितेंद्र ने तीन अगस्त को पेपर व आंसर-की मुजफ्फर अहमद खान को दी।

सरकारी कर्मचारी है एजाज अमीन

इस मामले में पकड़ा गया जम्मू में एजाज अमीन उर्फ मोहम्मद अमीन सांख्यिकी विभाग में सरकारी अधिकारी है। मुजफ्फर अहमद खान का क्योंकि हरियाणा में कोई लिंक नहीं था, इसलिए उसने पांच अगस्त को पेपर लीक करने के बारे में एजाज अमीन को बताया। Haryana Police Exam Leak 2021

Barwala Dainik Jagran News

एजाज आगे श्रीनगर के हजरत बल निवासी अफजल के संपर्क में था। अफजल वही व्यक्ति है, जिसमें पहले गिरफ्तार किए जा चुके पुलवामा के नजीर अहमद खांडे को हिसार के खांडा खेड़ी निवासी राजकुमार से मिलवाया था। नजीर और राजकुमार कई साल पहले जम्मू की एक यूनिवर्सिटी से जेबीटी करवाने का काम करते थे।

तब राजकुमार रोहतक में एक एकेडमी चलाता था। अफजल इस यूनिवर्सिटी में काम करता था और उसका खुद का एक बीएड-जेबीटी कालेज था। पेपर लीक की साजिश पर अफजल ने फिर से राजकुमार को उसमें शामिल किया।

अफजल ने राजकुमार से संपर्क किया

पांच अगस्त को पेपर और आंसर-की जम्मू एयरपोर्ट पर मुजफ्फर अहमद खान ने एजाज अमीन को दी। उसी वक्त वहां अफजल आ गया और एजाज ने उसे यह आंसर-की उसको दे दी। अफजल और एजाज की यह डील साठ लाख रुपये में हुई थी। अफजल ने कहा कि वह आगे पेपर साठ लाख में देगा और दोनों पैसे आधे-आधे बांट लेंगे। Haryana Police Exam Leak 2021

Related posts

Haryana Police Paper Leak News : हरियाणा पुलिस पेपर लीक मामले में एसआईटी का मिली बड़ी सफलता, जम्मु कश्मीर से तीन आरोपी हुए गिरफ्तार

Sandeep Kumar

Haryana Monsoon News : हरियाणा में 1 से 5 सितंबर तक परिवर्तनशील बना रहेगा मौसम

Pinky Sabharwal

75th Independance Day Haryana : आज स्वतंत्रता दिवस हरियाणा के 14 पुलिस अधिकारी व जवान होंगे सम्मानित, देखिये लिस्ट

Sandeep Kumar

Leave a Comment