home page

लंबे समय से उठ रही थी मांग, अब 9 गुना तक बढ़ाई जाएंगी पेंशन,

 Newz Fast, Delhi श्रम मंत्रालय इस संबंध में फरवरी को होने वाली बैठक में निर्णय लेगा। इसी बैठक में नए कोड पर भी फैसला लिया जा सकता है। माना जा रहा है अहम बैठक का मुख्य एजेंड़ा कर्मचारी पेंशन योजना के तहत मिनिमम पेंशन को बढ़ाया जाना है।
 | 
pension yojna

जल्द ही नौ गुना तक मिनिमम पेंशन बढ़ सकती है। यानी हर महीने 9,000 हजार रुपये तक मिनिमम पेंशन बढ़ाने की तैयारी चल रही है। सरकार Employees Provident Fund Organisation की स्कीम कर्मचारी पेंशन योजना के सब्सक्राइबर्स को ये तोहफा देने जा रही है। अगर ऐसा होता है तो अब ईपीएस से जुड़े लोगों को प्रत्येक महीने 1-1 हजार रुपये के बजाय 9-9 हजार रुपये मिलेंगे।

फरवरी में लिया जाएगा निर्णय - श्रम मंत्रालय इस संबंध में फरवरी को होने वाली बैठक में निर्णय लेगा। इसी बैठक में नए कोड पर भी फैसला लिया जा सकता है। माना जा रहा है अहम बैठक का मुख्य एजेंड़ा कर्मचारी पेंशन योजना के तहत मिनिमम पेंशन को बढ़ाया जाना है।

लंबे समय से उठ रही थी मांग - बता दें कि पेशनर्स काफी लंबे समय से मांग कर रहे हैं कि मिनिमम पेंशन को बढ़ाया जाया चाहिए। इस बारे में कई बार बहस भी हो चुकी है।

इतना ही नहीं संसद की स्थाई समिति ने भी इस संबंध में सुझाव दिए थे। बताया जा रहा है कि मिनिमम पेंशन बढ़ाने का फैसला समिति की सिफारिशों के आधार पर लिया जा सकता है।

इस संबंध में संसद की स्थाई समिति ने मार्च 2021 में इस बारे में सुझाव दिए थे। इस दौरान समिति ने कहा था कि मिनिमम पेंशन की रकम को मौजूदा एक हजार से बढ़कर 3 हजार किया जाना चाहिए।

हालांकि, इस मामले में पेंशनर्स का कहना है कि इसे बढ़ाकर 9 हजार किया जाना चाहिए और ऐसा तभी होगा जब ईपीएस-95 से जुड़े पेंशर्स को सही मायनों में फायदा मिल पाएगा। इसके अलावा अन्य सुझाव दिया गया था कि मिनिमम पेंशन से संबंध रखने वाले शख्स की अंतिम सैलरी से ही यह निर्णय लिया जाए। यानी रिटायर होने से ठीक पहले कर्मचारी को जो अंतिम सैलरी मिली थी। उसी आधार पर उनकी मिनिमम पेंशन तय होनी चाहिए।