home page

60 साल वालों की बल्ले-बल्ले, मिल रही इतने हजार रुपये पेंशन, फटाफट करें अप्लाई

Newz Fast, नई दिल्लीः कोरोना वायरस संक्रमण काल में आम लोगों से लेकर कारोबारियों तक को भारी आर्थिक नुकसान हुआ है। कोरोना संक्रमण की रफ्तार जरूर धीमी पड़ी है, लेकिन खतरा अभी भी पूरा बना हुआ है। केंद्र व राज्य सरकारों ने कोरोना संक्रमण के फैलाव पर काफी अलर्ट हैं। 
 | 
Old Age Pension Scheme

विपरीत स्थिति में सरकार भी मदद का हाथ आगे बढ़ा रही है। इस बीच अगर आप पीएम किसान सम्मान निधि के लाभार्थी हैं तो यह खबर आपके बड़े ही काम की है, क्योंकि सरकार ऐसे पात्रों को अब बड़ा फायदा दे रही है। 

सरकार इस योजना से जुड़े किसानों को 3000 रुपये महीना यानि सालाना 36000 रुपये पेंशन के तौर पर दे रही है। इस योजना का लाभ उन किसानों ही मिलेगा जिनकी आयु 60 साल से अधिक है। 

केंद्र सरकार की ओर से पीएम किसान सम्मान निधि योजना चला रखी है, जिसके तहत तीन किस्तों में सालाना 6000 रुपये खाते में आते हैं। मोदी सरकार की इस योजना का लाभ उन सारे किसानों को मिल सकता है, जो पीएम किसान सम्मान निधि का लाभ ले रहे हैं।

वहीं, पीएम किसान सम्मान निधि योजना से करीब 11 करोड़ से ज्यादा किसानों को किस्त मिल रही है पीएम किसान के लाभार्थियों को केंद्र सरकार किसान क्रेडिट कार्ड और पीएम किसान मानधन योजना का फायदा दे रही है। मानधन योजना के लिए कोई दस्तावेज नहीं देना होगा। वहीं इससे जुड़कर आप जेब से बिना खर्च किए 36000 सलाना पा सकते हैं।

 मिलेगी इतने हजार रुपये पेंशन

पीएम किसान मानधन योजना के तहत लघु सीमांत किसानों को हर महीने पेंशन देने की योजना है। इसमें 60 वर्ष की उम्र के बाद हर महीने 3000 रुपये यानी 36000 रुपये सालाना पेंशन दी जाती है। कोई किसान पीएम-किसान सम्मान निधि का लाभ ले रहा है तो उसे पीएम किसान मानधन योजना के लिए कोई दस्तावेज नहीं देना होगा।

पीएम-किसान स्कीम से प्राप्‍त लाभ में से सीधे ही अंशदान करने को चुनने की छूट है। इस तरह किसान को सीधे अपनी जेब से पैसा खर्च नहीं करना होगा। 6000 रुपये में से उसका प्रीमियम भी कट जाएगा। जेब से बिना खर्च किए किसान को 36000  सालाना भी मिलेगा और अलग से कुछ किस्त भी।

किसान मानधन योजना के तहत 18-40 साल तक की आयु वाला कोई भी किसान इसमें पंजीकरण करा सकता है। हालांकि, वहीं किसान इस योजना का फायदा उठा सकते हैं, जिनके पास अधिकतम 2 हेक्टेयर तक ही खेती योग्य जमीन है। 

इन्हें योजना के तहत कम से कम 20 साल और अधिकतम 40 साल तक 55 रुपये से 200 रुपये तक मासिक अंशदान करना होगा। अगर 18 साल की उम्र में जुड़ते हैं तो मासिक अंशदान 55 रुपये महीने होगा। अगर 30 साल की उम्र में योजना से जुड़ते हैं तो 110 रुपये हर महीने अंशदान करना होगा।