home page

UnderWorld: दाऊद इब्राहिम के नाम का मंदाकिनी के जीवन में 26 साल का ग्रहण, बेटे की जिद के आगे बेबस हुई मां

फिल्म श्राम तेरी गंगा मैलीश् से रातोंरात स्टार बनीं मंदाकिनी 26 साल बाद ऐक्टिंग में कमबैक कर रही हैं। दाऊद इब्राहिम से नाम जुड़ने के बाद मंदाकिनी ने 1996 में फिल्म इंडस्ट्री छोड़ दी थी। जानिए मंदाकिनी के करियर से लेकर बेटे और बेटी के बारे में...
 | 
ram

Newz Fast, Entertainment Desk बॉलीवुड की एक मशहूर फिल्म राम तेरी गंगा मैली याद आते ही एक्ट्रेस मंदाकिनी की याद आ जाती है। साथ ही उस फिल्म का वो सीन भी आंखों में तैरने लगता है जब मंदाकिनी सफेद लिबास में झरने के नीचे नहा रही थीं। 

मंदाकिनी कैसे स्टार बनी थीं? उन्हें राज कपूर ने कैसे अपनी फिल्म के लिए खोजा था? दाऊद इब्राहिम के साथ उनका रिश्ता क्या था? और क्यों वह फियास्मिन जोसेफ नाम, मेरठ में हुईं पैदाल्म इंडस्ट्री छोड़कर चली गई? इस आर्टिकल में हम आपको सब बताने जा रहे हैं।

 राम तेरी गंगा मैली फिल्म सुपरहिट रही और यह झरने वाला सीन मंदाकिनी के साथ हमेशा के लिए जुड़ गया। आज भी जब ये गाना कही चलता है तो वो सीन याद आ जाता है। 

राज कपूर ने मंदाकिनी को 'राम तेरी गंगा मैली' से लॉन्च किया था। फिल्म से मंदाकिनी रातोंरात स्टार बनीं और उसके बाद कुछेक फिल्में और की। लेकिन फिर मंदाकिनी फिल्म इंडस्ट्री से गायब हो गईं। 

मंदाकिनी ने 1990 में एक बौद्ध भिक्षु से शादी कर ली थी, बावजूद इसके उनका नाम दाऊद के साथ जोड़ा गया और करियर बर्बाद हो गया। मंदाकिनी ने 1996 में फिल्म इंडस्ट्री छोड़ दी और एक सामान्य जिंदगी जीने लगीं। 

लेकिन अब वही मंदाकिनी 26 साल बाद स्क्रीन पर वापसी कर रही हैं। जी हां, मंदाकिनी एक नए गाने 'मां ओ मां' में नजर आएंगी। इस गाने से मंदाकिनी तो कमबैक कर ही रही हैं, उनका बेटा रब्बिल ठाकुर भी डेब्यू कर रहा है।

मंदाकिनी के स्टार बनने से गुमनाम होने तक की कहानी
मेरठ में जन्मीं मंदाकिनी का बचपन का नाम यास्मिन जोसेफ था। उनका दूर-दूर तक फिल्मों से कोई नाता नहीं था। हालांकि मन में ऐक्ट्रेस बनने का ख्वाब जरूर पल रहा था।

 इसी ख्वाब के साथ जब मंदाकिनी बॉम्बे आई तो उन्हें काफी स्ट्रगल करना पड़ा। कई प्रड्यूसर्स और फिल्ममेकर्स ने उन्हें फिल्मों से रिजेक्ट कर दिया। आखिर में राज कपूर की नजर मंदाकिनी पर पड़ी और उन्होंने उन्हें 'राम तेरी गंगा मैली' में लेने का फैसला किया।

डिंपल कपाड़िया की जगह मंदाकिनी, झरने वाले सीन पर बवाल

राज कपूर पहले यह फिल्म डिंपल कपाड़िया के साथ बना रहे थे। बताया जाता है कि उन्होंने डिंपल के साथ इस फिल्म के लिए थोड़ा शूट भी कर लिया था। लेकिन राज कपूर ऐसे नए चेहरे की तलाश में थे जो एकदम मासूम है और पहाड़ी परिवेश उसके हाव-भाव में नजर आए। 

मंदाकिनी को 'राम तेरी गंगा मैली' मिल गई और फिल्म रिलीज होते ही ब्लॉकबस्टर रही। हालांकि इस फिल्म में मंदाकिनी के झरने वाले सीन पर खूब बवाल भी हुआ था। 

झरने के नीचे मंदाकिनी सिर्फ सफेद साड़ी में नजर आईं, जिससे उनके ब्रेस्ट साफ नजर आ रहे थे। इसी सीन को लेकर तब खूब विवाद हुआ था। इस सीन को 80s के हिसाब से काफी बोल्ड बताया गया।

दाऊद इब्राहिम के साथ जुड़ा नाम, बर्बाद हुआ करियर

खैर, विवाद का मंदाकिनी के करियर पर ज्यादा फर्क नहीं पड़ा। मंदाकिनी ने अपने करियर में आगे और भी फिल्मों में काम किया, लेकिन उन्हें डेब्यू फिल्म जैसा स्टारडम नहीं मिल पाया। 

मंदाकिनी ने 1985 में फिल्मों में कदम रखे थे और कुछ साल के बाद उनका नाम डॉन दाऊद इब्राहिम के साथ जोड़ा जाने लगा। कहा जाता है कि जिस दिन से दाऊद इब्राहिम ने मंदाकिनी की जिंदगी में कदम रखे, उसी दिन से मंदाकिनी के करियर पर असर पड़ना शुरू हो गया था। 

मंदाकिनी और दाऊद इब्राहिम के बीच कुछ चल रहा है, इसकी चर्चा उस वक्त शुरू हुई जब दोनों की 1994 में दुबई के एक क्रिकेट स्टेडियम से कुछ तस्वीरें सामने आईं।

मंदाकिनी के लिए फिल्ममेकर्स को धमकाता था दाऊद?
तस्वीरें आग की तरह फैल गईं और पूरी इंडस्ट्री में चर्चा होने लगी कि मंदाकिनी का दाऊद इब्राहिम के साथ चक्कर चल रहा है। इसका असर ऐक्ट्रेस के करियर पर भी होने लगा। 

बताया जाता है कि दाऊद इब्राहिम, मंदाकिनी की खूबसूरती पर मर-मिटा था। वह मंदाकिनी को फिल्में दिलवाने के लिए फिल्ममेकर्स को धमकाने लगा। 

इस वजह से फिल्ममेकर्स ने मंदाकिनी को साइन करने से कतराने लगे। बताया जाता है कि उस वक्त बॉलिवुड में दाऊद इब्राहिम अपना खूब दबदबा रखता था। क

ई बॉलिवुड स्टार्स को तब उसके यहां होने वाली पार्टियों में देखा जाता था। मुंबई बम धमाकों में जब दाऊद इब्राहिम का भी नाम आया और पुलिस मामले की जांच कर रही थी तो मंदाकिनी से भी पूछताछ की गई। 

दाऊद की वजह से मंदाकिनी के करियर और छवि पर जो दाग लगा, वह कभी हट नहीं पाया।

मंदाकिनी को चुकानी पड़ी भारी कीमत, 1996 में छोड़ दी इंडस्ट्री

मंदाकिनी, दाऊद इब्राहिम पर फिदा थीं या नहीं, यह तो पता नहीं पर एक डॉन के साथ नाम जुड़ने से उन्हें करियर में भारी कीमत चुकानी पड़ी। इस बारे में मंदाकिनी ने 2010 में 'मिड डे' को दिए इंटरव्यू में बताया था 

कि दाऊद के साथ वाली बात अतीत है और वह उसके बारे में कभी कोई बात नहीं करना चाहेंगी। वह इसके कारण पहले ही काफी कुछ झेल चुकी हैं।

1990 में शादी, मंदाकिनी का एक बेटा और एक बेटी

मंदाकिनी ने 1990 में एक बौद्ध भिक्षु से शादी कर ली थी, बावजूद इसके उनका नाम दाऊद के साथ जोड़ा गया और करियर बर्बाद हो गया। मंदाकिनी ने 1996 में फिल्म इंडस्ट्री छोड़ दी और एक सामान्य जिंदगी जीने लगीं। 

वह पति Dr. Kagyur T. Rinpoche Thakur के साथ मुंबई में रहती हैं और तिब्बती योग सेंटर चलाती हैं। मंदाकिनी का एक बेटा रब्बिल ठाकुर और बेटी है। 

बेटी का नाम इनाया है। बेटा रब्बिल ठाकुर जहां ऐक्टिंग में डेब्यू कर रहा है, वहीं बेटी के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं मिल पाई है। हालांकि मंदाकिनी और उनके पति ने बेटी की कई तस्वीरें इंस्टाग्राम शेयर की हुई हैं।