home page

Fake Cyber Police : फोन में पोर्न देख रहा था छात्र, फर्जी साइबर क्राइम ने दे दिया झटका

Newz Fast, Tamil Nadu Fake Cyber Police तमिलनाडु के पुदुकोट्टाई में मोबाइल पर पोर्न क्लिप देख रहा एक छात्र राज खुलने के डर से इतना खौफ खा गया कि उसने बिना जाने समझे ठगों को बीस हजार रुपये दे दिए। ताकि ये मामला पुलिस में न जाए। तमिलनाडु पुलिस ने...
 | 
Fake Cyber Police : फोन में पोर्न देख रहा था छात्र, फर्जी साइबर क्राइम ने दे दिया झटका

Newz Fast, Tamil Nadu

Fake Cyber Police 

तमिलनाडु के पुदुकोट्टाई में मोबाइल पर पोर्न क्लिप देख रहा एक छात्र राज खुलने के डर से इतना खौफ खा गया कि उसने बिना जाने समझे ठगों को बीस हजार रुपये दे दिए। ताकि ये मामला पुलिस में न जाए।

तमिलनाडु पुलिस ने इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है। ये दो लोग खुद को साइबर क्राइम विभाग के अधिकारी बता रहे थे।

Fake Cyber Police : फोन में पोर्न देख रहा था छात्र, फर्जी साइबर क्राइम ने दे दिया झटका

पुलिस के अनुसार, पुदुकोट्टाई के रहने वाले एक छात्र से दो लोगों ने संपर्क किया और खुद को साइबर क्राइम विभाग का अधिकारी बताया। (Fake Cyber Police)

इन दो लोगों ने इस छात्र को धमकी दी कि वो अपने मोबाइल पर पोर्न क्लिप देख रहा था और इस मामले में उसे पूछताछ के लिए थाने ले जाया जाएगा। पोर्न क्लिप देखने के लिए पूछताछ की बात सुनकर ही छात्र डर गया। (Fake Cyber Police)

डरते हुए छात्र ने माफी मांगी और फिर से ऐसा न करने का वादा किया। लेकिन इन दोनों लड़कों ने उसकी नहीं सुनी। इस गैंग ने कहा कि अगर वह इन्हें बीस हजार रुपये देता है तो उसे छोड़ दिया जाएगा

Fake Cyber Police : फोन में पोर्न देख रहा था छात्र, फर्जी साइबर क्राइम ने दे दिया झटका

पापा के अकाउंट से 20 हजार ट्रांसफर किए

थाने जाने के डर से छात्र ने अपने पिता के अकाउंट से किसी तरह से 20 हजार रुपये ठगों को भेज दिए। इस बारे में छात्र के माता-पिता को जानकारी तब मिली, जब उसने डरते-डरते पूरा मामला अपने पिता को बताया। (Fake Cyber Police)

छात्र का एक रिश्तेदार पूरा मामला समझ गया। इस परिवार ने पूरे मामले की सूचना पुदुकोट्टाई पुलिस की साइबर टीम को दी।

Fake Cyber Police : फोन में पोर्न देख रहा था छात्र, फर्जी साइबर क्राइम ने दे दिया झटका

ठगों के पास कैसे पहुंचा नंबर

साइबर टीम ने गूगल पे अकाउंट के जरिए इन ठगों का पता लगा लिया और इन्हें कृ्ष्णागिरी जिले से गिरफ्तार कर लिया। गुरुवार को पुलिस ने इस मामले में गणेश और प्रकाश नाम के दो शख्स को गिरफ्तार किया।

इन लोगों ने स्वीकार किया कि उन्होंने इस तरह से कई छात्रों को ठगा है। पुलिस अब इन ठगों का तरीका जानने की कोशिश कर रही है। पुलिस के लिए चिंता की बात यह है कि इनके हाथ दूसरों का नंबर कैसे लगा? मामले की जांच जारी है।