home page

मां ने Phone पर बात करने से रोका, तो नाबालिग बेटी ने उठाया खौफनाक कदम

इन्हीं लोगों ने उसकी मां की हत्या कर दी और उसके शोर मचाने के बाद तीनों आरोपी वहां से भाग निकले। जिसके बाद पुलिस ने महिला की बेटी के बयान पर खोजबीन शुरू की।
 | 
phone

Newz Fast, New Delhi कहतें है कि इश्क में लोग कदर पागल हो जाते हैं कि उन्हें भी नहीं पता होता कि वो क्या कर रहे हैं। एक ऐसा ही मामला सामने आया है जहां प्यार में पागल लड़की ने ऐसा कदम उठाया जिसके बारे में जान आप हैरान रह जाएंगे।

16 वर्षीय बेटी ने उठाया कदम
क्षेत्र के गांव निवासी महिला की 9 मई को घर से भीतर सिलबट्टे से हत्या कर दी गई थी। महिला की हत्या के समय घर पर उसकी 16 वर्षीय बेटी मौजूद थी।

उसने बताया था कि वारदात के कुछ देर पहले उसके पिता के दोस्त मनीष प्रजापति अपने दो साथियों के साथ घर आए थे। इन्हीं लोगों ने उसकी मां की हत्या कर दी और उसके शोर मचाने के बाद तीनों आरोपी वहां से भाग निकले। जिसके बाद पुलिस ने महिला की बेटी के बयान पर खोजबीन शुरू की।

मां ने तोड़ा था बेटी का मोबाइल
पुलिस जब मनीष को खोजने निकली तो पता चला कि वह पास के गांव में मजदूरी कर रहा है। वहां काम कर रहे लोगों से पुलिस ने पूछताछ की तो पता चला कि मनीष काफी देर से वहीं काम कर रहा है।

इसपर पुलिस को संदेह हुआ और जांच में पूरा सच सामने आ गया। सीओ महिपाल पाठक ने बताया कि किशोरी मोबाइल पर किसी लड़के से बात करती थी। इसी बात को लेकर उसकी मां ने तीन बार उसका मोबाइल तोड़ चुकी थी।

धक्का देकर आंगन में आई बेटी
सीओ महिपाल ने बताया कि वारदात वाले दिन भी इसी बात को लेकर मां ने बेटी की पिटाई की थी। नाराज होकर किशोरी छत पर चली गई थी। आगे बताया कि जब मां सीढ़ी लगाकर उसे बुलाने गई तभी किशोरी ने उसे धक्का दे दिया।

जिसकी वजह से पेट के बल गिरी और बेहोश हो गई। उसके बाद किशोरी भी छत से आंगन में आ गई और सिलबट्टे से अपनी मां की हत्या सिलबट्टे से कर दी। बेटी की इस हरकत से हर कोई हैरान है।

मनीष पर मढ़ा हत्या का आरोप
पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार ने बताया कि किशोरी ने बताया कि सात मई को मनीष से उसके पिता का झगड़ा हुआ था। जिसके बाद मनीष ने सोमवार को देख लेने की धमकी दी थी।

यह बात किशोरी को पता थी लेकिन सोमवार को जब वारदात हो गई तो उसने मनीष पर आरोप मढ़ दिया। अपनी मां की हत्या उसकी बेटी ने ही की थी, इसके कई सारे सुबूत पुलिस के पास हैं। जिसके बाद पुलिस ने किशोरी को बाल सुधार गृह लखनऊ भेज दिया।