home page

जल्द मिलने वाली है गर्मी से राहत, मौसम विभाग ने इस दिन जताई बारिश की संभावना

इस बार किसानों और लोगों के लिए अच्छी खबर है। इस बार मॉनसून समय से पहले आ सकता है। यह संभावना मौसम विभाग ने जताई है। 
 | 
girls in monsoon

Newz Fast, New Delhi इस बार मॉनसून समय से पहले आएगा। मौसम विभाग के आंकड़ों के अनुसार यह जानकारी दी गई है। साल 2022 में मॉनसून समय से पहले ही दस्तक देगा। इससे न केवल कई राज्यों के लोगों को गर्मी से राहत मिलेगी। केरल में दक्षिण.पश्चिम मानसून 27 मई को आएगा। हालांकि इसमें 4 दिन आगे-पीछे हो सकते हैैं

आईएमडी के मुताबिक सामान्य तारीखों के अनुसार संभावना जताई गई है कि दक्षिण.पश्चिम मॉनसून अंडमान सागर के ऊपर 22 मई के आसपास आगे बढ़ता है। इस साल दक्षिण.पश्चिम मॉनसून की स्थिति और अंडमान सागर के ऊपर आगे बढ़ने से दक्षिणी अंडमान सागर में शुरुआती मॉनसूनी बारिश हो सकती है।

विशेषज्ञों के अनुसार फिर मॉनसूनी हवाएं बंगाल की खाड़ी में उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ती हैं। साल 2015 को छोड़कर बीते 17 सालों में केरल में मॉनसून की शुरुआत की तारीखों के आईएमडी के पूर्वानुमान सटीक साबित हुए हैं। आईएमडी ने 2017 में 30 मई को पूर्वानुमान जताया था कि मॉनसून ठीक उसी तारीख को केरल पहुंचा। 

इसके बाद 2018 में भी पूर्वानुमान के मुताबिक 29 मई को पहुंचा। विभाग ने 2019 में कहा था कि 6 जून को मॉनसून पहुंच जाएगा। यहां दो दिन की देरी से मॉनसून 8 जून को पहुंचा। 2020 में 5 जून की संभावना थीए लेकिन इस बार वो समय से पहला ही पहुंच गया। वहीं, बीते साल 2021 में 31 मई को मानसून पहुंचने का पूर्वानुमान था, लेकिन इस बार 3 जून को मानसून केरल पहुंचा था। 

विशेषज्ञों ने संभावना जताई है कि इस बार दक्षिण अंडमान सागर, निकोबार द्वीप समूह और दक्षिण.पूर्व बंगाल की खाड़ी के कुछ हिस्सों में 15 मई को भी मॉनसून पहुंच सकता है। अंडमान सागर के ऊपर मॉनसून की प्रगति या तो केरल में मॉनसून की शुरुआत की तारीख के साथ या देश में मौसमी मॉनसून वर्षा के साथ होती है। इस बार देखने वाली बात होगी कि मॉनसून कब भारत पहुंचता है।