home page

Income Tips: ये 7 आसान टिप्स अपनाकर बन सकते हैं करोड़पति, करना होगा बस ये छोटा सा काम

Investment Tips: अगर आप अभी से अपने फ्यूचर की चिंता है तो आपके वक्त रहते अपने पैसे बचा लेने चाहिए. इसके लिए बस आपको थोड़ी सी मेहनत करनी पड़ेगी.
 | 
How to be crorpati

Newz Fast, New Delhi how to become crorepati: पैसा हर किसी को चाहिए, लेकिन इसके लिए अगर समय के साथ फाइनेंशियल प्लानिंग की जाए, तो आपके बेहतर होगा. (How to do Financial Planning) कई ऐसी बड़ी हस्तियां है, जो इन्वेस्टमेंट के जरिए अच्छा कमाकर बड़ा एग्जांपल बनकर सामने आईं हैं. ऐसे में आपको भी बेहतर भविष्य और फाइनेंशियल स्टेबल होने के लिए इन्वेस्टमेंट शुरू कर देनी चाहिए. आज हम आपको 7 ऐसी टिप्स बताएंगे, जिन्हें अपनाकर आप करोड़पति बन सकते हैं.

Income का 10 पर्सेंट करें इंवेस्ट

चाहें आप कम कमाते हो या ज्यादा, आपको अपनी इनकम का 10 पर्सेंट उठाकर इस नए बिजनेस में लगाना होगा. इसमें ये जरूरी नहीं है कि आपकी सैलरी लाखों ही होनी चाहिए. आपकी फिलहाल कितनी भी सैलरी हो, बस आपको कम से कम 10 पर्सेंट तक का इंवेस्टमेंट करना होगा. आप अपने सेविंग्स और खर्चे को पहले एक जगह नोक करके रख लें. इससे होगा ये कि आपको वक्त रहते खुद समझ आ जाएगा कि आप कौन-कौन सा फालतू खर्चा कर रहे हैं.

EMI या क्रेडिट कार्ड पेमेंट में कभी देरी न करें

अगर आप अपने पास Credit Card रखते हैं और EMI भी ले रखी है. और इनसे सामान भी लेते हैं, तो इसका बिल समय पर चुकाना बेहद जरूरी है. (Make Credit card payment on time) अगर आप इसका बिल समय पर नहीं चुकाएंगे, तो आपको परेशानियां आ सकती है. 

हीं क्रेडिट कार्ड (Credit card Bill payment deadline) में मिनिमम बिल पेमेंट के चक्कर में भी न पड़ें. ऐसा करने से आप के बिल में कई तरीके के टैक्स जुड़ जाएंगे और आपकी भुगतान राशि बढ़ती ही चली जाएगी.

Emergency Fund रखें तैयार

इंवेस्टमेंट के तौर पर आप जो भी कुछ लगा रहे हैं, तो आप एक बार साइज हटाकर रख दीजिए. इससे हटर आपके पास एक इमरजेंसी फंड (Emergency Fund) होना चाहिए, जिससे फ्यूचर में आपके सामने कोई मुश्किल आए तो आपको कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए. 

इंवेस्ट किए गए पैसो को आपको बिल्कुल हाथ नहीं लगाना है. (Prepare an Emergency fund) अगर आप अपने इन्वेस्ट किए गए पैसे में से विदड्रॉ करेंगे तो आपका इंवेस्टमेंट प्लान गड़बड़ा जाएगा और अगर आपने कहीं से लोन लिया तो उसका भुगतान करना भी आपके लिए अतिरिक्त बोझ हो जाएगा.

खर्चों का फंड बनाएं

आपका इंवेस्टमेंट अलग है, इमरजेंसी फंड अलग है और खर्चों का यह फंड एकदम अलग होगा. (Plan your expenses) इसमें आपके आने वाले 4 से 6 महीनों के मंथली खर्चों का फंड बनाना होगा. यह सच बात है कि इतने सारे फंड एक दिन में तैयार नहीं होंगे, लेकिन अगर आप धीरे-धीरे कोशिश करेंगे तो कुछ महीनों में आप ये फंड तैयार कर लेंगे. खर्चों का फंड बनाने से फायदा यह होगा कि आपको पता रहेगा कि आपके कितने खर्चे हैं और आपके पास हमेशा उनके लिए पर्याप्त पैसा रहेगा.

निवेश से हुई इनकम को फिर इन्वेस्टमेंट में लगा दें

अगर आपको अपने इंवेस्ट किए हुए पैसे से कोई इनकम हो रही है, जैसे कि आपका कोई फंड मैच्योर (Mature Fund) हुआ है या ट्रेडिंग से आपको कुछ हटकर इनकम मिली है, (Put investment income back into investment) और आपको उस पेसे की अभी जरूरत नहीं है तो उस पैसे को दोबारा इंवेस्टमेंट में लगा दें.

इंवेस्टमेंट प्लान में लगातार निवेश करते रहें

अगर आपने इंवेस्टमेंट करने का पहला कदम उठा लिया है तो रुकें नहीं. यह सच है कि आपको छह महीने या एक साल में रिटर्न नहीं मिलेंगे, लेकिन इसका यह मतलब नहीं है कि आपको कभी रिटर्न नहीं मिलेंगे. (Continue to invest in investment plans) आपको अपने इंवेस्टमेंट प्लान में लगातार निवेश करते रहना होगा. उदास या निराश होकर इंवेस्टमेंट को बीच में छोड़ने से आप बड़ी रकम नहीं बना पाएंगे.

इंवेस्टमेंट Performance को जांचते रहें

यह सबसे जरूरी आदत है, अगर आपने इसे फॉलो नहीं किया तो आपका इंवेस्टमेंट प्लान सफल नहीं हो सकेगा. इंवेस्टमेंट के बाद यह भी जरूरी है कि आप अपने इंवेस्टमेंट पर नजर बनाए रखें. सिर्फ इंवेस्टमेंट कर देने भर से आपकी जिम्मेदारी पूरी नहीं हो जाती है. आपको लगातार देखना होगा कि आपका इंवेस्टमेंट प्लान कैसा चल रहा है. 

(Keep checking on investment performance) अगर हर छह या आठ महीने पर आपको लगे कि रिटर्न नहीं मिल रहे हैं तो आप किसी और फंड में निवेश करें. साथ ही कभी भी बिना कंपनी का रिव्यू किए या किसी के दबाव में कभी इंवेस्ट न करें, इससे आपका पैसा डूबने के चांस ज्यादा रहते है.