Intercropping Techniques: किसानों के लिए जबरदस्त ये है तकनीक, सालभर में कर पाएंगे लाखों की कमाई

इटावा (Itawa) का पीपल्दा गांव आसपास के क्षेत्र का मुख्य सब्जी उत्पादक गांव है। यहां से उपखंड क्षेत्र सहित मांगरोल, बारा, कोटा आदि के साथ मध्य प्रदेश के श्योपुर जिले में भी सब्जियों की आपूर्ति की जाती है।

 | 
Money Investment tips

Newz Fast, New Delhi नवाचार तकनीकों (New Techniques) की वजह से बागवानी करने वाले किसानों को काफी मुनाफा हो रहा है

 जिससे यह साबित होता है कि किसान सिर्फ अपनी आय को बागवानी फसलें (Horticulture Crops) उगाकर भी बेहतर कर सकते हैं।

ऐसी ही एक ख़बर उत्तर प्रदेश के इटावा से भी आ रही है जहां किसानों ने इसका जीता-जगता उदाहरण पेश किया है।

बागवानी कर पैसा कैसे कमाएं (Horticulture Profit)
इटावा (Itawa) का पीपल्दा गांव आसपास के क्षेत्र का मुख्य सब्जी उत्पादक गांव है। यहां से उपखंड क्षेत्र सहित मांगरोल, बारा, कोटा आदि के साथ मध्य प्रदेश के श्योपुर जिले में भी सब्जियों की आपूर्ति की जाती है।

इन दिनों कोरोना महामारी के प्रतिबंधों के चलते किसानों का ज्यादातर समय खेतों में गुजरता है, जिसके चलते किसानों का रुझान सब्जी उत्पादन एवं अन्य बागवानी खेती (Horticulture) की तरफ बढ़ा है।

खेती में उन्नत बीज (High Quality Seeds), तकनीकों का प्रयोग और नवाचारी से पीपल्दा के किसानों ने बागवानी को फायदे का सौदा बना लिया है।

इसमें कोई दो राय नहीं कि यदि परंपरागत तरीके से की जा रही खेती के साथ-साथ बागवानी खेती एवं पशुपालन किया जाए, तो यह किसानों के लिए लाभ का सौदा है। इससे किसानों की आय में अच्छी ख़ासी वृद्धि हो सकती है।

उन्नत तकनीक से टमाटर की खेती (Advance Technique for Tomato Farming)
पीपल्दा के एक किसान का कहना है कि वह पिछले 10 वर्षों से बागवानी की खेती कर रहे हैं।

जिसमें वह तीन-चार सालों से टमाटर की उन्नत खेती (Tomato Farming) कर रहे हैं, जिसके लिए वह नर्सरी में टमाटर के उन्नत बीजों की पौध तैयार करते हैं। नतीजतन कम बीज में इनकी नर्सरी तैयार हो जाती है।

इसके उपरांत तैयार नर्सरी को डिप व मल्चिंग का प्रयोग करते हुए रोपण किया जाता है। फिर एक माह के उपरांत टमाटर के पौधों को बांस (Bamboo) और तार के सहारे बांध दिया जाता है।

इससे टमाटर जमीन से ऊपर रहते हैं। साथ ही इससे टमाटर सड़ने एवं रोग कीट आदि समस्याओं से निजात मिलती है।