home page

IIT: नए बोर्ड को जेईई मेंस एडवांस की कमान

केंद्र सरकार ने गठित किया 19 सदस्य बोर्ड लेकिन परीक्षा एनपीए ही कराएगा
 | 
iit exam

Newz Fast, New Delhi 2 वर्षों तक यानी वर्ष 2022 और 2023 में आईआईटी सहित इंजीनियरिंग के अंडरग्रैजुएट कोर्स में दाखिला के लिए होने वाले जेईई मेंस एग्जाम और एडवांस एग्जाम की योजनाओं को देखरेख जिम्मा अब 19 सदस्य एक्सेस बोर्ड के पास होगा

राष्ट्रीय स्तर कि इन परीक्षाओं के सुचारू आयोजन के लिए सरकार इस बोर्ड का गठन किया है इसके चेयरमैन आईआईटी मद्रास के पूर्व निदेशक प्रोफेसर भास्कर राममूर्ति होंगे बोर्ड का अपना सचिवालय भी होगा जो इससे जुड़ी गतिविधियों को पूरे समय पर आएगा

वह अलग बात है कि परीक्षा करने की जिम्मेदारी पहले की तरह नेशनल टेस्टिंग एजेंसी के पास ही रहेगी शिक्षा मंत्रालय के जेई मेंस और जेई एडवांस और पारदर्शिता में बेहतर बनाने के लिए सिर्फ बोर्ड का गठन किया गया है इससे पहले काम कर रहे बोर्ड का स्थान लेंगे उसका कार्यालय 31 मार्च 2022 को खत्म हो जाएगा नए बोर्ड पिछले बोर्ड की तुलना में काफी विस्तृत है

इस बोर्ड के पास जेल में से जुड़ी नीतियां नियम व्यवस्था अधिकार होगा यह प्रशासनिक निर्णय लेने विद्यालय से जुड़े मामले भी देखेगा बोर्ड के डायरेक्टर जनरल को दिया गया है बोर्ड के आईआईटी खड़कपुर मद्रास मुंबई गुवाहाटी के निर्देशक के साथ हरियाणा बिहार गुजरात कर्नाटक सरकार के 1 शिक्षा मंत्रालय के अतिरिक्त सचिव भी हैं

ज्ञात हो कि पहले चरण का आयोजन 20 जून को होना है दूसरा चरण जुलाई में होना है वही एडवांस का आयोजन प्रस्तावित है इस सबके बीच को भी संकट के चलते जेल में एडवांस के प्रेशर को ठीक करना हैं