Gurugram में बिछाई जाएगी 28.50 किलोमीटर लंबी नई मेट्रो लाइन, 27 स्टेशनों का होगा निर्माण

Newz Fast
5 Min Read
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

Newz Fast, New Delhi, New Metro Line : गुरुग्राम में 16 फरवरी को प्रधान मंत्री द्वारा मेट्रों की आधारशिला रखी गई थी। इस बार विभाग गुरुग्राम में एक और रूट को मेट्रो से जोड़ने की तैयारी कर रहा है। इस रूट की लंबाई 28.50 किलोमीटर होगी। इसके लिए 27 नए मेट्रो स्टेशन का निर्माण किया जाएगा। इस प्रोजेक्ट के लिए सरकार की तरफ से 5452.72 करोड़ रुपये का टेंडर जारी किया गया है।

सरकार गलेरिया रोड़ पर मेट्रो चलाने की योजना बना रही है। इस योजना का काम हरियाणा मास रेपिड ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन ( HMRL) और गुरुग्राम मेट्रो रेल लिमिटेड (GMRL) को सौंपा गया है।

Also read this : 10 हजार में शुरू किया खुद का बिजनेस, 20 बार हुए फेल, फिर दो कर्मचारियों के साथ मिलकर बनाई 500 करोड़ की कंपनी

गोल्फ कोर्स रोड पर स्थित रेपिड मेट्रो के सेक्टर 42-43 स्टेशन को मिलेनियम सिटी सेंटर स्टेशन से जोड़े जाने की योजना बनाई जा रही है। इस जगह डलने वाली मेट्रो लाइन की लंबाई 2.4 किलोमीटर होने वाली है।

इस प्रोजेक्ट के पूरा होने से डीएलएफ फेस चार, सुशांतलोक वन, सेक्टर-27, 42 और 43 के रहने वाले लोगों को यात्रा करने में आसानी होगी। इस प्रोजेक्ट के लिए एक हफ्ते पहले गुरुग्राम मेट्रो रेल लिमिटेड की अध्यक्ष की मौजूदगी में बैठक हुई थी।

जीएमआर एल की अध्यक्ष डी.थारा ने निर्देश देते हुए कहा कि मिलेनियम सिटी सेंटर मेट्रो स्टेशन को सेक्टर-42-43 रेपिड मेट्रो स्टेशन से जोड़ा जाए। इसके लिए दोनों ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन द्वाारा काम शुरु किया जा चुका है।

अभी तक इस बात का स्पष्टीकरण नहीं दिया गया है कि इस प्रोजेक्ट के लिए कितने नए स्टेशनों का निर्माण किया जाएगा। एचएमआरटीसी के अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया ह कि जीएमडीए के पास जो हरित क्षेत्र हैं वहीं पर स्टेशनों का निर्माण किया जा सकता है।

5km इलाके की हुई जांच

इस प्रोजेक्ट के लिए मिलेनियम सिटी सेंटर मेट्रो स्टेशन से लेकर पुरान गुरुग्राम व साइबर सिटी कर मेट्रो लाइन बिछाने के लिए भू-तकनीकों का इस्तेमाल कर 5 किलोमीटर इलाके की जांच की गई है।

Also read this : 10 हजार में शुरू किया खुद का बिजनेस, 20 बार हुए फेल, फिर दो कर्मचारियों के साथ मिलकर बनाई 500 करोड़ की कंपनी

इस प्रोजेक्ट को लेकर फिलहाल सुभाष चौक और उसके आस पास के इलाकों की जांच की जा रही है। एचएमआरटीसी की तरफ से 12.76 किलोमीटर तक के हिस्से का सर्वेक्षण करने का कार्य एक कंपनी को थमा दिया गया है। सर्वेक्षण के दौरान 30 मीटर गहरा बोरवैल खोदा जाएगा और पानी और मिट्टी के नमूने लेकर उनकी जांच की जाएगी।

सड़कों को किया जाएगा चौड़ा

गुरुग्राम मेट्रो रेल लिमिटेड की तरफ से इन सड़कों को चौड़ा कर दिए जाने की योजना बनाई जा रही है। दोनों सड़कों को चौड़ा करने के लिए इनके बीच लगभग आधा मीटर का विभाजन छोड़ा जाएगा।

लेकिन अब गुरुग्राम मेट्रो रेल लिमिटेड का कहना है कि यदि इन सड़कों को मेट्रों विस्तार के लिए चौड़ा किया जा रहा है तो इन सड़कों के बीच में आधे मीटर की जगह ढाई मीटर का विभाजन रखा जाना चाहिए।

पुराने गुरुग्राम मेट्रो के लिए बनेंगे 27 स्टेशन

बीती 16 फरवरी को प्रधान मंत्री द्वारा पुराने गुरुग्राम मेट्रो की आधारशिला रखी गई थी। इस रूट की लंबाई कुल 28.50 किलोमीटर होगी जिस पर 27 स्टेशनों का निर्माण किया जाएगा। इसके लिए सरकार की तरफ से कुल 5452.72 करोड़ रुपये का टेंडर जारी किया गया है।

Also read this : 10 हजार में शुरू किया खुद का बिजनेस, 20 बार हुए फेल, फिर दो कर्मचारियों के साथ मिलकर बनाई 500 करोड़ की कंपनी

यह मेट्रो मिलेनियम सिटी सेंटर मेट्रो स्टेशन से गुजरते हुए बख्तावर चौक, सुभाष चौक, हीरो होंडा चौक, सेक्टर नौ-नौए, द्वारका एक्सप्रेस वे, सेक्टर चार-सात, पालम विहार, सेक्टर 23-23ए, उद्योग विहार होकर साइबर सिटी तक पहुंचेगी।

Share This Article